expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Online Education


Rewari News : ओवरडयू शिकायतों को शीघ्र निपटाने की दिशा में गंभीरता से कार्य करें अधिकारी : DC

 
                               

रेवाडी, 18 नवंबर। उपायुक्त यशेन्द्र सिंह ने कहा कि सीएम विंडो व सोशल मीडिया ग्रीवेंस ट्रैकर के अंतर्गत ओवरडयू हो चुकी शिकायतों को लेकर संबंधित विभागों के अधिकारी गंभीरता से कार्य करें। इस संबंध में लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी। डीसी यशेन्द्र सिंह ने बुधवार को लघु सचिवालय सभागार में सीएम विंडो, एसएमजीटी व सरल पोर्टल की समीक्षा बैठक में बोल रहे थे। उन्होंने सीएम विंडो व एसएमजीटी पर लंबित शिकायतों के समाधान में विभागों की धीमी प्रगति पर असंतोष जताया। उपायुक्त ने कहा कि प्रदेश स्तर पर सीएम विंडो व एसएमजीटी शिकायतों के समाधान की समीक्षा की जाती है, इसलिए सभी अधिकारी इस कार्य को प्राथमिकता के आधार पर करवाएं।यशेन्द्र सिंह ने बाया कि सीएम विंडों की कुल 223 शिकायतें विभिन्न विभागों के स्तर पर लंबित हैं, जिनमें 153 शिकायतें ओवर डयू चल रही है। सीएम विंडों पर सबसे अधिक लम्बित शिकायतें जिला विकास एवं पंचायत विभाग की हैं। बैठक में बताया गया कि सीएम विंडो पर कुल 14 हजार 404 शिकायतें प्राप्त हुई है जिनमें से 14 हजार 130 शिकायतों का निपटान कर दिया गया है। जिला में सीएम विंडो का डिस्पोज रेट 98.1 प्रतिशत है। सोशल मीडिया ग्रीवेंस ट्रैकर पर कुल 91 शिकायतें लंबित हैं। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी अपने विभाग से संबंधित शिकायतों का समाधान कर रिपोर्ट अपडेट करें। डीसी ने सरल पोर्टल पर की समीक्षा करते हुए कहा कि ट्रांसपोर्ट, पुलिस व स्वास्थ्य विभाग ने सरल पोर्टल पर अच्छा कार्य किया है इसके लिए यह विभाग बधाई के पात्र है, वहीं उन्होंने लेबर, जनस्वास्थ्य विभाग, एचएसवीपी, हाउङ्क्षसग बोर्ड, मत्स्य, समाज कल्याण विभाग को सख्त लेहजे में कहा कि शुक्रवार तक सरल पोर्टल पर आए हुए आवेदनों पर कार्य करें। उन्होंने बताया कि सरल पोर्टल पर अब तक 13 लाख 98 हजार 336 आवेदन प्राप्त हुए, जिनमें से 13 लाख 84 हजार 709 का कार्य हो चुका है, जिनमें से 12 लाख 38 हजार 810 आवेदनों का तय समय सीमा में कार्य किया गया है। सरल पोर्टल पर सेवा देने में जिला का स्कोर 8.8 है। उपायुक्त ने विभागवाईज लंबित शिकायतों की समीक्षा की और उनके पेंडिंग होने का कारण पूछा। उन्होंने कहा कि समय पर शिकायत का संज्ञान न लेने के कारण संबंधित विभाग के साथ-साथ जिला की रैंकिंग भी प्रभावित होती है। यदि कोई कर्मचारी गलत मंशा के साथ मामलो के निपटान में देरी करता है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने निर्देश दिए कि सभी विभाग लंबित शिकायतों को त्वरित निपटान कर पोर्टल पर उसकी रिपोर्ट अपलोड करें। इस बैठक में एसडीएम कोसली कुशल कटारिया, एसडीएम बावल मनोज कुमार, सीटीएम संजीव कुमार, एचसीएस यूटी रोहित व रमित, सीएमजीजीए मृदुला सूद, डीटीओ गजेन्द्र सिंह, डीएसडब्ल्यूओ रेनू बाला, महिला एवं बाल विकास कार्यक्रम अधिकारी संगीता, डीएफएससी अशोक रावत, तहसीलदार प्रदीप देशवाल सहित सभी विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें