expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Pakur News: नव नियुक्त शिक्षक मिले ग्रामीण मंत्री से मिला आश्वाशन


ग्राम समाचार, पाकुड़।  झारखंड सरकार के ग्रामीण विकास मंत्री जनाब आलमगीर आलम ने पाकुड़ व साहेबगंज जिले के सैकड़ों शिक्षक-शिक्षिका  को आश्वाशन दिया कि आपलोगों के ऊपर किसी भी तरह की कार्यवाही नही होगी व वेतन का भुगतान पर कोई रोक नहीं लगेगा बताते चले कि आज पाकुड़ व साहेबगंज जिले के सैकड़ों की संख्या में  नव नियुक्त  शिक्षकों  ने उनके आवास पर मुलाकात की। और सभी शिक्षकों ने संयुक्त रूप से माननीय उच्च न्यायालय द्वारा नियोजन नीति को गलत ठहराते हुए 13 जिले के शिक्षक को रद्द करने के विषय मे मर्माहत होकर पाकुड़ विधानसभा विधायक सह राज्य सरकार के ग्रामीण विकास मंत्री से अपनी सेवा को यथावत रखने एवं संविधान के अनुच्छेद142 के अंतर्गत दया याचिका उच्च न्यायालय में दायर करने हेतु फरियाद किया   मंत्री जी को  बताया गया कि हजारों शिक्षक पूर्व में  केंद्र या राज्य सरकार के नौकरियों से इस्तीफा देकर  इस नियुक्ति में शामिल हुए एवं  लगभग सभी शिक्षकों ने  बैंक से लौन भी लिया है परन्तु आज की वर्तमान दशा से सभी शिक्षकों ने खुद को असहाय बताया  इस पर मंत्री जी ने बताया कि सरकार इस पर कार्य कर रही है और आपलोगों के लिए सरकार ठोस कदम उठाने जा रही है और एक कमिटी भी तैयार किया जा रहा है जिसमे आपलोगों के हित के लिए सरकार सोच रही है चिंता न करें किन्हीं को कुछ नहीं होगा और आपलोग यथावत कार्यरत ही रहेंगे।  मिलने के क्रम में शिक्षक विजय कुमार भण्डारी राजू नंदन साहा अब्दुल क्यूम अंसारी लाओस हांसदा, शमद अली विजय कुमार राय ,अमित ठाकुर राजेन्द्र मरांडी हिबजुर रहमान आलोक कुमार साहा,जेम्स सोरेन निर्मल ओझा अनिल मुर्मू ,पीयूष रजक,जबीर अली अतिकुर रहमान  सोमा बेगम आलमगीर आलम,नसीम दफादार राजेन्द्र हरिजन सफीउर रहमान,इत्यादि शिक्षक शिक्षिका उपस्थित रहे।


ग्राम समाचार, बिक्की कुमार भगत पाकुड़


Share on Google Plus

Editor - रंजीत भगत, पाकुड़

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें