expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

GoddaNews: जिला में शांति समिति की बैठक की गई


 


ग्राम समाचार गोड्डा, ब्यूरो रिपोर्ट:-   आज दिनांक 20.10.2020 को उपायुक्त गोड्डा भोर सिंह यादव एवं पुलिस अधीक्षक गोड्डा वाई एस रमेश के द्वारा संयुक्त रुप से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आगामी दुर्गा पूजा को सौहार्द एवं शांतिपूर्ण ढंग से मनाने को लेकर समीक्षात्मक बैठक आहूत की गई। बैठक में उपायुक्त के द्वारा अनुमंडल पदाधिकारी गोड्डा  ऋतुराज , अनुमंडल पदाधिकारी महागामा जितेंद्र कुमार देव, जिले के सभी वरीय अधिकारियों, पुलिस पदाधिकारियों एवं पुलिसकर्मियों सहित अन्य को आवश्यक निर्देश दिए गए कि जिले में आगामी दुर्गा पूजा के सफल संचालन हेतु विशेष ध्यान रखे जाएं। उपायुक्त  के द्वारा बताया गया कि आगामी दुर्गा पूजा को लेकर जिन पंडालों में भीड़ एकत्रित होती है उस पर खासा ध्यान रखें। अनुमंडल पदाधिकारी गोड्डा  ऋतुराज द्वारा जानकारी देते हुए बताया गया कि आगामी दुर्गा पूजा को लेकर सरकार के गाइडलाइन के अनुरूप संबंधित पदाधिकारियों को दिशा निर्देश दिए गए हैं साथ ही साथ पूजा पंडालों की सुरक्षा व्यवस्था पर विशेष ध्यान रखा जा रहा है। मूर्ति विसर्जन को लेकर  ऋतुराज द्वारा जानकारी दी गई कि जो रूट जिला प्रशासन द्वारा तय की जाएगी उन्हीं रूटों पर मूर्ति विसर्जन किया जाएगा। साथ ही साथ अन्य जगहों पर भी पैनी नजर रखी जा रही है। अनुमंडल पदाधिकारी महागामा  जीतेंद्र कुमार देव के द्वारा बताया गया कि महागामा अनुमंडल क्षेत्र में प्रमुख 9-10 क्षेत्रों को चिन्हित किया गया है एवं विधि व्यवस्था संधारण हेतु संबंधित पदाधिकारियों को दिशा निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि विभिन्न थाना क्षेत्रों में शांति समिति की बैठक की जा रही है एवं कोविड-19 प्रोटोकॉल के अनुरूप कार्य कर रहे हैं। 

पुलिस अधीक्षक गोड्डा वाईएस रमेश के द्वारा बताया गया कि जिले के सभी पुलिस पदाधिकारियों एवं गश्ती दलों , महिला पुलिस, के द्वारा ऐसे धार्मिक स्थलों पर कड़ी निगरानी रखी जाए ताकि भीड़ एकत्र ना हो।  उपायुक्त द्वारा जानकारी दी गई कि पूजा पंडाल में रहने वाले लोगों को कोरोना गाइडलाइन का सख्ती से पालन करना होगा।सोशल डिस्टैंसिंग एवं मास्क लगाना अनिवार्य है।कम के कम 6 फीट की दूरी जरुरी है। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए सार्वजनिक जगहों पर फेस मास्क लगाना एवं सोशल डिस्टैंसिंग का पालन अनिवार्य है। उपायुक्त के द्वारा बताया गया कि जागरूकता कार्यक्रम के अंतर्गत जिले में दुर्गा पूजा समिति के संचालक को प्रारंभ से ही निर्देश दिए गए है कि की तोरण द्वार, पांडाल एवं लाइटिंग, डीजे साउंड कि उपयोग वर्जित है। आदेश की अवहेलना करते हुए यदि जिले के किसी संचालकों को पाया जाता है तो उनके विरुद्ध आपदा प्रबंधन एक्ट के तहत कार्यवाही की जाएगी। उपायुक्त ने पदाधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि आगामी दुर्गा पूजा को लेकर पूरी तरह से अलर्ट मोड पर रहेंगे। सरकार के द्वारा जो गाइडलाइन है उसके अनुरूप कार्य हो इसका विशेष ध्यान रखें। उपायुक्त ने सभी पदाधिकारियों से कहा कि आपस में समन्वय स्थापित कर बेहतर ढंग से कार्य करें जिससे किसी प्रकार की अप्रिय घटना न हो।

मौके पर अनुमंडल पदाधिकारी गोड्डा ऋतुराज, अनुमंडल पदाधिकारी महागामा  जीतेंद्र कुमार देव ,अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी गोड्डा  अरविंद कुमार सिंह, सभी प्रखंडों के प्रखंड विकास पदाधिकारी,अंचलाधिकारी, संबंधित थाना के थाना प्रभारी एवं अन्य पदाधिकारीगण मौजूद थे|


Share on Google Plus

Editor - भुपेन्द्र कुमार चौबे

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें