expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Rewari News : IGP South Range रेवाडी के कार्यालय में अन्र्तराज्यीय गोष्ठी का आयोजन किया गया



पुलिस महानिरीक्षक, दक्षिण मण्डल रेवाडी के कार्यालय में अन्र्तराज्यीय गोष्ठी का आयोजन किया गया। इस गोष्ठी मं श्री अशोक राठौड, भा0पु0से0, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक ए0टी0एस0 एंव एस0ओ0जी0, श्री विकास कुमार अरोडा, भा0पु0से0, पुलिस महानिरीक्षक दक्षिण मण्डल रेवाडी, श्री एस0 सेंगाथीर, भा0पु0से0, पुलिस महानिरीक्षक जयपुर रेंज राजस्थान, श्री सतीश बालान, भा0पु0से0, पुलिस उप महानिरीक्षक एस0टी0एफ0 हरियाणा, श्री अभिषेक जोरवाल, भा0पु0से0 पुलिस अधीक्षक रेवाडी, श्री चंद्रमोहन, भा0पु0से0, पुलिस अधीक्षक महेन्द्रगढ, श्री नरेन्द्र बिजरानियां, भा0पु0से0, पुलिस अधीक्षक मेवात, श्री दीपक गहलावत भा0पु0से0, पुलिस अधीक्षक पलवल, श्री आर0एम0 जोशी, भा0पु0से0, पुलिस अधीक्षक भिवाडी, तेजस्वनी गौतम, भा0पु0से0, पुलिस अधीक्षक अलवर, डा0 अमनदीप एस0 कपूर भा0पु0से0, पुलिस अधीक्षक भरतपुर, श्री राजीव देशवाल पुलिस उपायुक्त अपराध गुरूग्राम, श्री विरेन्द्र विज, पुलिस अधीक्षक एस0टी0एफ0 गुरूग्राम, श्री मकसूद अहमद, पुलिस उपायुक्त अपराध फरीदाबाद व अन्य पुलिस अधिकारियों ने भाग लिया। इस गोष्ठी में हरियाणा पुलिस के साथ-साथ पड़ोसी राज्य राजस्थान के अधिकारियों ने बैठक में भाग लिया, जिनमें वरिष्ठ अधिकारी भी शामिल थे। पुलिस महानिरीक्षक, दक्षिण मण्डल रेवाडी ने पहले इंटर स्टेट को-ऑर्डिनेशन मीटिंग के सभी प्रतिभागियों का स्वागत किया। इस बैठक के माध्यम से सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर पुलिस बलों के बीच सह-समन्वय और सह-संचालन सुनिश्चित करने के लिए अंतरराज्यीय सह-समन्वय बैठक आयोजित करने के उद्देश्य को समझाया।

  गोष्ठी का मुख्य उद्देश्य दक्षिण रेंज के साथ लगती सीमाओं के राज्यों के साथ उचित तालमेल एंव संपर्क बनाए रखने बारे विचारविमर्श किया गया। इसके साथ-साथ अपराधिक प्रवृति के व्यक्तियों की धरपकड़, अवैध शराब व मादक पदार्थो की तस्करी करने वालों पर कार्यवाही करने के लिए आपसी विचार-विमर्श सांझा करते हुए हर प्रकार की सूचना देने तथा पी0ओ0, बेलजम्परों, पैरोल जम्परों, मोस्ट वाटेंड अपराधियों की सूची का आदान-प्रदान किया ताकि भविष्य में अपराधों पर अंकुश लगाया जा सके।
  बैठक के दौरान निम्नलिखित बिंदुओं पर चर्चा की गईः-
1. दोनों राज्यों की पुलिस के सहयोग से अवैध हथियार के आवागमन पर रोक लगाना व इसके बारे में तुरंत सूचना सांझा करना।
2. मादक पदार्थों जैसे हैरोईन, गांजा, सुल्फा आदि की तस्करी और एन0सी0आर0 क्षेत्र में आपूर्ति बारे सूचना सांझा करना व जंहा से मादक पदार्थ का स्त्रोत है, उनको पहचानना व आपूर्ति श्रृृखंला को तोडना।
3. साइबर अपराध/धोखाधड़ी की बढ रही घटनाओं के बारे में भी मिंटीग में विचार विमर्श किया गया, जिसमें अपराधियों द्वारा जाली सिम कार्ड की मदद से पलवल, मेवात, अलवर, भरतपुर में अपराधों को अंजाम दिया जा रहा है। उनके बारे में भी आपस में सूचनांए सांझा करने पर जोर दिया एंव अवैध सिम कार्ड रिटेलर की धरपकड के लिए एक विशेष योजना बनाई गई।
4. राजस्थान व हरियाणा क्षेत्र में अपराधी को पकडने के लिए विशेष टीमों का गठन किया गया व एक दूसरे के सीमा क्षेत्र में अपराधियों की धरपकड के लिए सहयोग करने पर जोर दिया।
5. सीमावर्ती जिलों के बीच समन्वय बैठकें आयोजित करने और संयुक्त अभ्यासों का आयोजन करना।
6. हरियाणा से राजस्थान एंव इसके विपरित शराब की आपूर्ति करने वाले बूटलेगर्स के खिलाफ एक बड़ी संयुक्त कार्रवाई करना और शीघ्र ही राजस्थान में पंचायत चुनावों के मध्यनजर भी विशेष रूप से इस ओर ध्यान दिए जाने की आवश्यकता है।
7. दोनों राज्यों की सीमाओं में राष्ट्रीय राजमार्गों पर हो रही घटनाओं का भी अध्ययन किया और गिरफतार अपराधियों के वारदात के तरीकों व अन्य सूचनाओं को आदान प्रदान किया।
    बैठक में सभी प्रतिभागियों को सामूहिक रूप से काम करने के लिए कहा, ताकि अवैध हथियार, मादक पदार्थों के आपूर्तिकर्ता पर कार्रवाई की जा सके। स्ट्रीट क्राईम में शामिल अपराधी गिरोह के बारे में तंरत जानकारी सांझा करने के लिए अनुरोध किया, ताकि ऐसे अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जा सके।
               अंत में सभी अधिकारियों की तरफ से बैठक में उठाए गए बिंदुओं के कार्यान्वयन का आश्वासन दिया। 
Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें