expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Pakur News: भाजपा का असली उद्देश्य कृषि भूमि पर अप्रत्यक्ष क़ब्ज़ा करना है जेएमएम जिला अध्यक्ष श्याम यादव


ग्राम समाचार,पाकुड़। झामुमो जिला कमिटी की ओर से आज कृषि से संबंधित विधेयकों के विरुद्ध ने किसानों द्वारा बुलाई गई भारत बंद में  पाकुड़ झामुमो जिला कमेटी  ने सड़क में उतर कर किसानों भारत बंद का  समर्थन किया  है देश के हमारे अपने किसानों के साथ हर नागरिक को खड़ा होना होगा. भाजपा सरकार एमएसपी व मंडी के नाम पर सारा ध्यान फ़सल की ख़रीद-फ़रोख़्त में लगा देना चाहती है, जबकि भाजपा का असली उद्देश्य कृषि भूमि पर अप्रत्यक्ष क़ब्ज़ा कर अडानी अम्बानी के हाथों में गिरमी रखना  चाहते है। मोदी सरकार द्वारा लाये गये बिल किसान विरोधी है इस कानून से किसानों का सुरक्षा कवच समाप्त होगा। कृषि क्षेत्र को भी निजी हाथों में सौपने की तैयारी है यह कानून निजीकरण को बढ़ावा देने के उद्देश्य से लाया गया है इस बिल से किसानों को बहुत खतरा है किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य न देकर निजीकरण को बढ़ावा देने से किसानों को खतरा होगा उस पर सरकार को सोचना चाहिए यह सरकार किसान विरोधी है इसलिए मैं और मेरी पार्टी इस कानून का पुरजोर विरोध करती है। यह सरकार किसानों का, मजदूरों का, नौजवानों का शोषण करने में लगी है इस बिल से देश के किसान और गरीब होते चले जाएंगे सरकार इस बिल को तुरंत वापस ले।झामुमो जिला प्रवक्ता शाहिद इकबाल जिला अल्पसंख्यक अध्यक्ष हाविबुर रहमान, प्रखंड उपाध्यक्ष मुसलोउद्दीन शेख, नगर अध्यक्ष मनोज ठाकुर प्रखंड उपाध्यक्ष दुर्गा हांसदा नगर उपाध्यक्ष वंशराज गोप नगर सचिव रियाज अहमद, विकास कुमार साहा,आफताब अहमद पिकलु मोकलेसुर, दनारूल शेख,कमरुद्दीन शेख, महबूब आलम अमीरुल शेख देवानंद टुडू, राजा हांसदा, अकबर अंसारी, आफताब अहमद,रहमा मोकलसर रहमान इत्यादि मौजुद थे।


Share on Google Plus

Editor - रंजीत भगत, पाकुड़

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें