expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

GoddaNews: विडियो कांफ्रेंसिंग से मतस्य विभाग की समिक्षात्मक बैठक की



ग्राम समाचार गोड्डा, ब्यूरो रिपोर्ट:-    उपायुक्त गोड्डा भोर  सिंह यादव के द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मत्स्य विभाग की समीक्षात्मक बैठक आहूत की गई। उपायुक्त के द्वारा मत्स्य विभाग के अंतर्गत चलाए जा रहे योजनाओं की जानकारी प्राप्त की गई एवं आवश्यक दिशा निर्देश जिला मत्स्य पदाधिकारी गोड्डा  को दिए गए। उपायुक्त के द्वारा एनुअल डिस्ट्रिक्ट फिशरी प्लान बनाने के निर्देश दिए गए। प्रधानमंत्री मतस्य संपदा योजना के अंतर्गत उपायुक्त द्वारा निर्देश दिए गए मतस्य  संपदा योजना अंतर्गत एक्शन प्लान बनाकर संबंधित विभाग द्वारा प्रस्तुत किया जाए  एवं उसमे बेनिफिशियरी  को अनुमोदन दिया  जाए इस योजना में जेएसएलपीएस जेटीडीएस, नाबार्ड, जल छाजन के बेनिफिशियरी को भी सम्मिलित करने का निर्देश दिया गया ताकि उन्हें भी इस योजना से लाभान्वित किया जा सके। उपायुक्त के द्वारा बताया गया कि कृषि विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक एवं कृषि  विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों के द्वारा एक्शन प्लान बना कर आगामी बैठक में अंतिम निर्णय लिया जाएगा एवं उसे नवंबर तक राज्य सरकार को भेजने के निर्देश दिए गए। बैठक में जिला मत्स्य पदाधिकारी द्वारा आगामी 5 वर्षीय पांच वित्तीय वर्षों के लिए योजनाएं के क्रियान्वयन से संबंधित विस्तृत विवरण प्रस्तुत किया गया। प्रस्तावित योजना में वर्ष 2020-  2025 तक मछली बाजार आधुनिक ,जलाशय में केज निर्माण ,केज हाउस सहित ,मछली लैंडिंग साईट, जोरिया छोटी नदी में प्रत्येक 1 किलोमीटर पर चेक डैम का निर्माण ,निजी क्षेत्र में तालाब, चेक डैम में 10-12 समूह बनाकर आर .एफ.एफ  के माध्यम से मछली पालन से जोड़ना, जलाशय हेतु नाव, मछुआरों के लिए लाइफ जैकेट, मछली विपणन हेतु पिकअप वैन, मछली विपणन हेतु आटो रिक्शा संसाधनों को उपलब्ध कराना है।

मौके पर उप विकास आयुक्त अंजलि यादव, जिला मत्स्य पदाधिकारी गोड्डा  मरियम मुर्मू, एवं पदाधिकारीगण मौजूद थे।

  



Share on Google Plus

Editor - भुपेन्द्र कुमार चौबे

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें