expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Dumka News : बनकाठी में मोहल्ला क्लास फ़िल्म निर्माण शुरू

मुहल्ला क्लास का फोटो

ग्राम समाचार, दुमका।  शिक्षक दिबस के दिन यहां मोहल्ला क्लास चर्चा का बिषय बना हुआ हैं।और इस चर्चा का केंद्र में हैं दुमका प्रखंड के उत्क्रमित मध्य विद्यालय बनकाठी के प्रभारी प्रधान अध्यापक श्याम किशोर सिंह गांधी ।अखिल भारतीय प्राथमिक शिक्षक संगठन के राष्ट्रीय प्रबक्ता श्री गांधी नब्बे के दशक में सम्पूर्ण साक्षरता अभियान के साथ जुड़ कर यहां उत्कृष्ट कार्य किया हैं। उत्तर साक्षरता अभियान की अनुश्रवण में भी गांधी का अहम योगदान रहा हैं।उसी समय से गांधी जनसरोकार से जुड़ा सामाजिक कार्य करते आरहा हैं ।कोरोना महामारी की भयाबहता को देख कर राज्य सरकार मार्च महीना से विद्यालयों में पठान पठान बंद कर दिया हैं।


दुमका शहर से 14 किलो मीटर दूरी के आदिबासी बहुल गांव  बनकाठी के उत्कृमित मध्य विद्यालय में कुल 255 नामांकित छात्र छात्रा अध्ययन करता हैं।यहां के 46 छात्र का स्मार्ट फोन हैं।मानव संसाधन बिकास बिभाग ने लक डाउन अबधि में शिक्षकों को ऑन लाईन क्लास चलाने का आदेश दिया हैं।स्मार्ट फोन नहीं रहने के कारण यहाँ के 209 छात्र छात्रा उस सुबिधा से बंचित रह गया है। यहां पांच सरकारी शिक्षक एबं दो पारा शिक्षक कार्यरत हैं।गांधी ने उस अभिबंचित परिबार के बच्चों का पठन पाठन की समस्या को देख कर अन्य शिक्षकों के सहयोग से 16 अप्रैल को यहां मोहल्ला क्लास शुरू किया हैं।यहां शुरू हुई मोहल्ला कलस अब मॉडल बन गया हैं । गांधी ने बताया है कि जिले के 80 बिद्यालय में मॉडल क्लास चल रहा हैं। नीति आयोग ने भी यहां के मॉडल क्लास की सराहना किया हैं। राष्ट्रीय स्तर पर दुमका के मॉडल क्लास अपना पहचान बना लिया हैं।दिल्ली के फ़िल्म निदेशक सत्यजीत शर्मा ने बनकाठी के मॉडल क्लास को लेकर फ़िल्म निर्माण शुरू किया हैं।गांधी ने बताया हैं कि सामाजिक दूरी का पालन कर मोहल्ला क्लास एक सफल प्रयोग है।

गौतम चटर्जी, ग्राम समाचार,रानीश्वर(दुमका)

Share on Google Plus

Editor - केसरीनाथ यादव, दुमका

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें