expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Rewari News : बड़ा तालाब व सोलहराही तालाब की बदलेगी सूरत, भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण टीम ने किया अवलोकन

रेवाड़ी, 20 अगस्त। रेवाड़ी के प्राचीनतम सरोवर सोलहराही व बड़ा तालाब अनमोल धरोहर के सरंक्षण व संवर्धन के लिए उपायुक्त यशेन्द्र सिंह के साथ भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग के ऑर्कोलॉजिस्ट अक्षत कौशिक व अभियंता ए.के. गुप्ता की टीम ने आज सोलहराही व बड़ा तालाब का निरीक्षण कर स्थिति का जायजा लिया तथा टीम ने धरोवर के सरंक्षण के कार्य में तकनीकी पहलुओं से उपायुक्त को अवगत कराया।

उपायुक्त यशेन्द्र सिंह ने बताया कि जिला प्रशासन ऐतिहासिक धरोहरों के संरक्षण के लिए चिंतित हैं। जिले की ऐतिहासिक धरोहरों का जीर्णोद्धार कराया जाएगा, जिससे यथाशीघ्र इनकी बदहाली दूर की जाएगी। उपायुक्त यशेन्द्र सिंह ने भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण टीम सदस्यों को कहा कि इन दोनों तालाबों की असल बरकरार रहें तथा इसकों सुंदर बनाने के लिए सभी पहलुओं पर विचार कर तकनीकी सहायता प्रदान करें।

यहां यह भी बतां दे कि बड़ा तालाब को राव तेज सिंह ने वर्ष 1810-1815 के दौरान बनवाया था, इसलिए इसे राव तेज सिंह तालाब के नाम से भी जाना जाता है। उन्होंने बताया कि ऐतिहासिक धरोहरों से जिले को अलग पहचान मिली हुई है। तथा सोलहराही सरोवर में कभी सोलह रास्तों से बरसाती जल एकत्रित होता था जिसके चलते इसका नाम सोलहराही सरोवर पड़ा। इस सरोवर में प्राचीन कुओं के अवशेष आज भी मौजूद है। नगर के प्राचीन व ऐतिहासिक सोलहराही तालाब में प्राचीन कलात्मक कारीगरी के कई नायाब नमूने जो अब दम दौड चुके है, उनको ठीक करने की योजना बनाई जा रही है।

भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण देश की सांस्कृतिक विरासतों के पुरातत्वीय अनुसंधान तथा संरक्षण के लिए एक प्रमुख संगठन है। इसका प्रमुख कार्य राष्ट्रीय महत्व के प्राचीन स्मारकों तथा पुरातत्वीय स्थलों और अवशेषों का रखरखाव करना है। इसके अतिरिक्त, प्राचीन संस्मारक तथा पुरातत्वीय स्थल और अवशेष अधिनियम के प्रावधानों के अनुसार यह देश में सभी पुरातत्वीय गतिविधियों को विनियमित करता है।

इस अवसर पर जिला राजस्व अधिकारी विजय यादव, जनस्वास्थ्य विभाग के कार्यकारी अभियंता जितेन्द्र हुड्ड, लोक निर्माण विभाग के कार्यकारी अभियंता सचिन भाटी, लोक निर्माण विभाग के उपमंडल अभियंता आदित्य देशवाल, तहसीलदार प्रदीप देशवाल सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहें।

Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें