expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Rewari News : IGU मीरपुर में बी.फार्मेसी कोर्स संचालित, फार्मेसी में रोजगार के अच्छे अवसर

इन्दिरा गांधी विश्वविद्यालय, मीरपुर 2016 से बी.फार्मेसी कोर्स संचालित कर रहा है। यह कोर्स फार्मेसी कौंसिल ऑफ इंडिया ;च्ब्प्द्ध और अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद ;।प्ब्ज्म्द्ध द्वारा अनुमोदित है। विश्वविद्यालय प्रशासन शिक्षा की गुणवता के लिए निरन्तर प्रयत्नशील है। इसके लिए विश्वविद्यालय ऑनलाईन लर्निंग मैनेजमैंट सिस्टम ;डव्व्क्स्म्द्धव विभिन्न आनलाईन माध्यमो से छात्रो को शिक्षा प्रदान करवा रहा है। फार्मास्यूटिकल साईंसिज विभाग के अध्यक्ष डॉ. सुनिल कुमार ने बताया कि फार्मेसी एक ऐसा सेक्टर है जो काफी तेजी से तरक्की कर रहा है। फार्मास्यूटिकल मार्केट उन सेक्टरों में से एक है जिसने पिछले कुछ सालों में काफी ग्रोथ हासिल की है। इसमें करियर के काफी स्कोप है। यह कोर्स करने के बाद छात्र विभिन्न सरकारी और गैर सरकारी विभाग जैसे कि हॉस्पिटल फार्मेसी, क्लिनिकल फार्मेसी, रिसर्च सेन्टर, मेडिकल स्टोर, सेल्स एण्ड मार्केटिंग डिपार्टमेंट, एजेकेशनल संस्था, स्वास्थ्य केन्द्र आदि में फार्मासिस्ट, ड्रग कन्ट्रोलर ऑफिसर, मेडिकल रिप्रजेन्टेटिव, क्लिनिकल रिसर्चर, मार्किट रिसर्च ऐनालिस्ट, मेडिकल राइटर, एनालिटिकल केमिस्ट, रेग्यूलेटरी मैनेजर जैस उच्च पदों पर अपनी सेवाए प्रदान करके उज्जवल भविष्य का निर्माण कर सकते है इसमें दाखिले हेतू 12वीं साईंस स्ट्रीम के छात्र जिनके पास केमिस्ट्री, फिजिक्स और बॉयोलोजी या मैथ्स, दाखिले ले सकते है। बैचलर ऑर फार्मेसी 4 साल का कोर्स है। इस वर्ष बी. फार्मेसी में दाखिला हरियाणा राज्य तकनीकी शिक्षण सोसाईटी के द्वारा संचालित किया जा रहा है। इसमें दाखिले हेतू छात्र  ूूूण्वदसपदमजमेजीतलण्हवअण्पद पर जाकर आनलाईन आवेदन कर सकते है तथा आवेदन की अंतिम तिथि 31 अगस्त है। विस्तृत जानकारी हेतू आवेदनकर्ता ूूूण्ीेजमेण्वतहण्पद व ूूूण्जमबींकउपेेपवदेीतलण्हवअण्पद  पर देख सकते है।

Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें