expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Rewari News : शिक्षण संस्थाओं में जागरूकता कैंप के माध्यम से परिवार पहचान पत्र का किया जाएगा सत्यापन, 25 अगस्त से 2 सितंबर तक चलेगा सत्यापन का कार्य

रेवाड़ी, 21 अगस्त। हरियाणा सरकार द्वारा परिवार पहचान पत्र पोर्टल अब सभी नागरिकों के लिए डाटा अपडेट करने हेतु उपलब्ध है। सरकार की ओर से लागू होने वाली योजनाओं का लाभ परिवार पहचान पत्र पोर्टल पर डाटा अपडेट होने के साथ ही पात्र लोगों को मिलेगा।

उपायुक्त यशेन्द्र सिंह ने जिला में संबंधित एसडीएम को परिवार पहचान पत्र पोर्टल प्रक्रिया को अपडेट करने की जिम्मेवारी दी गई है। उपायुक्त ने बताया कि परिवार को समृद्ध बनाने के लिए परिवार पहचान पत्र बेहद जरूरी है। इस पहचान पत्र से जरूरतमंद नागरिकों को घर द्वार पर प्रदेश सरकार की जनकल्याकारी योजनाओं का लाभ मिलेगा। परिवार पहचान पत्र जिसके पास है उसे बार-बार प्रमाण पत्र बनवाना जरूरी नहीं है। परिवार पहचान पत्र से किसी भी प्रकार की डुप्लीकेसी नहीं होगी। डीसी ने बताया कि परिवार पहचान पत्र बनाने व उसके सत्यापन का कार्य जिला प्रशासन के तत्वाधान में 25 अगस्त से 2 सितंबर 2020 तक प्रात: 8 बजे से सायं 5 बजे तक विद्यालय प्रांगण में किया जाएगा।

उपायुक्त यशेन्द्र सिंह ने जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिए कि जिला के राजकीय विद्यालयों में परिवार पहचान पत्र पोर्टल पर परिवार का डाटा अपडेट कराने के लिए कैंप लगाए जाएं। इस बात का विशेष ध्यान दिया जाए कि कक्षावार सूचना किस दिन किस समय स्कूल में आना है, इसकी जानकारी अभिभावकों को अग्रिम रूप से दी जाएं। उन्होंने कहा कि इस व्यवस्था के दौरान जिला प्रशासन द्वारा जारी की गई गाईडलाईन की अनुपालना करवाना सुनिश्चित करें। सोशल डिस्टेंस दो गज की दूरी, मास्क पहनना अनिवार्य है। उन्होंने बताया कि सेनिटाइजर, हाथ सैनेटाईज व थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था की जाएं। उन्होंने कहा कि जिला शिक्षा अधिकारी व जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी इस कार्यक्रम का शैडयूल व अन्य विवरण अतिरिक्त उपायुक्त राहुल हुड्डा से सांक्षा करेगें।

डीसी ने स्पष्ट किया कि इस प्रक्रिया के दौरान केवल अभिभावक ही परिवार का डाटा अपडेट कराने के लिए स्कूल पहुंचे। उन्होंने कहा कि अभिभावक अपने साथ पूरे परिवार का आधार कार्ड, बैंक पासबुक, मतदाता पहचान पत्र आदि दस्तावेज अवश्य साथ लेकर आएं। उन्होंने डीईओ को निर्देश दिए कि स्कूल की छात्र संख्या के आधार पर तिथिवार समय सारणी जारी की जाए और अभिभावकों को समय सारणी के अनुसार ही बुलाया जाएं। 

डीसी ने बताया कि नागरिक पीपीपी में दर्ज अपनी पारिवारिक सूचना को अपडेट करने के लिए विभाग की वेबसाईट- मेरा परिवार.हरियाणा.जीओवी.ईन पर जाकर अपडेट फैमिली डिटेल कर सकते हैं। वेबसाईट पर अपनी फैमिली आईडी दर्ज करनी होगी। फैमिली आईडी दर्ज करने उपरांत परिवार के मुखिया के मोबाईल नंबर पर एक ओटीपी आएगा, उस ओटीपी को दर्ज करने उपरांत फैमिली आईडी में पंजीकृत परिवार के सभी सदस्यों का डेटा दिखाई देगा। पीपीपी पृष्ठï में दर्ज परिवार के सदस्यों का विवरण गलत है, तो उसको आप अपडेट कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि यदि परिवार की पारिवारिक संरचना क्षेत्र के सत्यापन प्रक्रिया के माध्यम से सिस्टम में पहले से ही सत्यापित हो चुकी है तो उसको आपको ठीक करने की अनुमति नहीं है। उन्होंने बताया कि परिवार की पारिवारिक संरचना अभी तक पीपीपी मेंं सत्यापित नहीं हैं, तो नागरिक को परिवार के सदस्यों को जोडऩे या हटाने की अनुमति होगी। परिवार के सदस्य को हटाने के लिए एक अलग फार्म खुलेगा जिसमेंं परिवार के सभी सदस्यों में से हटाए गए सदस्य जाने वाले सदस्य का नाम और आधार नंबर पूछा जाएगा। परिवार के सदस्य को हटाने की अनुमति केवल सत्यापन के बाद ही दी जाएगी। उन्होंने बताया कि अपना फैमिली डाटा अपडेट करने उपरांत परिवार का काई भी सदस्य यदि पीपीपी के साथ एकिकृत किसी भी सेवा का लाभ उठाने के लिए सीएससी केंद्र अथवा लोकल कमेटी द्वारा आयोजित शिविरों में जाकर पीपीपी फार्म को प्रिंट करा सकता है और नागरिक द्वारा उसे हस्ताक्षर किए जाने के बाद इसे वापस पीपीपी पोर्टल पर अपलोड किया जा सकता है। इससे फैमिली अपडेट की प्रक्रिया पूरी होगी।  इस अवसर एसडीएम कोसली कुशल कटारिया, एसडीएम रेवाड़ी रविन्द्र यादव, एसडीएम बावल मनोज कुमार, जिला शिक्षा अधिकारी राजेश कुमार, ईओ नगर परिषद विजयपाल, बावल व धारूहेडा नगर पालिका सचिव समपाल,  उप-अधीक्षक प्रदीप यादव सभी खण्ड शिक्षा अधिकारी सहित सभी संबंधित अधिकारी मौजूद रहे. 

Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें