expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Pakur News: वैश्विक महामारी के संभावित संक्रमण के मद्देनजर शिक्षक संघ ने पत्राचार कर गुहार लगाई

ग्राम समाचार, पाकुड़। झारखंड राज्य माध्यमिक शिक्षक संघ पाकुड़ ने कोविड 19 में माध्यमिक शिक्षक (प्रतिनियुक्त दण्डाधिकारी) की कार्य मुक्ति हेतु अनुमंडल पदाधिकारी, पाकुड़ को एवं कंटनमेंट जोन में प्रतिनियुक्त दंडाधिकारियों की ड्यूटी में परिवर्तन किए जाने के संबंध में जिला शिक्षा पदाधिकारी, पाकुड़ को पत्र लिखा है । अनुमंडल पदाधिकारी को लिखे गए पत्र 31/2020 में झारखंड राज्य माध्यमिक शिक्षक संघ के सचिव ने लिखा है कि जिले मे सभी माध्यमिक शिक्षको ने कोविड 19 मे पूरी निष्ठापूर्वक अपना कर्तव्य निर्वहन किया है लेकिन वर्तमान में माध्यमिक शिक्षकों का अपने अपने विद्यालय के प्रति कार्य की वृद्धि हुई है । पत्र में उक्त आशय के आलोक मे रहसपुर व तोडाई कंटेंनमेंट जोन मे लगातार 28 दिनो से कार्य मे लगे शिक्षको, सभी चेकनाका में प्रतिनियुक्त शिक्षको एवं बकरीद पर्व को देखते हुए रहसपुर व तोडाई कंटेनमेंट जोन से सभी दंडाधिकारियो को मुक्त किए जाने की बात कही गई है । वही दूसरी तरफ जिला शिक्षा पदाधिकारी को लिए गए पत्र 28/2020 में अनुमंडल पदाधिकारी के ज्ञापांक 439 के आदेश का हवाला देते हुए दिनांक 02/07/2020 से लगातार चौबीस घंटे ड्यूटी कर रहे छः प्रतिनियुक्त दंडाधिकारियो की ड्यूटी में परिवर्तन करने तथा रोस्टरवाइज अन्य लोगो को प्रतिनियुक्त करने का अनुरोध किया गया है । पत्र में लगातार ड्यूटी करते रहने से कई शिक्षको के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पडने की बात कही गई है । झारखंड राज्य माध्यमिक शिक्षक संघ की ओर से लिखे गए पत्र के आलोक में जिला शिक्षा पदाधिकारी, कार्यालय के ज्ञापांक 362 के द्वारा अनुमंडल पदाधिकारी को पत्र भेजा गया है । इस बाबत संघ के सचिव नमिता त्रिवेदी ने बताया कि संक्रमण के मद्देनजर लगातार पत्र व्यवहार किया जा रहा है लेकिन स्थिति मे किसी तरह का कोई बदलाव नही हुआ है।

ग्राम समाचार, बिक्की भगत पाकुड़

Share on Google Plus

Editor - रंजीत भगत, पाकुड़

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें