expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Pakur News: कोविड-19 हेल्थ सेंटर से तीन विचाराधीन कोरोना संक्रमित कैदी फरार,एक पकड़ाए

ग्राम समाचार, पाकुड़। मंडल कारा में विचाराधीन कैदियों में कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद कोरोना संक्रमित  विचाराधीन कैदियों को नगर थाना के सामने बने न्यू मार्केटिंग कॉन्प्लेक्स सह मैरिज हॉल के सबसे ऊपरी मंजिल कोविंद सेंटर में तब्दील कर रखने की व्यवस्था की गई थी। भोजन पानी दवा की भी समुचित व्यवस्था की गई थी।साथ ही इसकी सुरक्षा के पुख्ता व्यवस्था भी। यह कंपलेक्स काफी बड़ा है। अभी तक तकनीकी कारणों से प्रारंभ नहीं किया गया है।  सुरक्षा की दृष्टि से बिल्कुल सुरक्षित है। बावजूद तीन कोरोना संक्रमित कैदी पांच मंजिला इमारत इमारत से से भाग निकलने के समाचार हैं।पुलिस अधीक्षक मणिलाल मंडल ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया  कि यह तीनों कैदी मकबूल अंसारी, संदीप कुमार पाल, अर्जुन कुमार सिंह, द्वारा कांपलेक्स में बने बाथरूम की ओर से कांपलेक्स के ठीक विपरीत दिशा में पीछे की ओर से 70 फीट के छत से लोहे की ग्रिल तोड़कर कपड़ों से बनाया गया रस्सी के सहारे निकले हैं। मालूम हो कि भवन के पीछे नीम का एक विशाल वृक्ष भी है। जिसकी टहनियां भवन के समीप है। पुलिस कारणों एवं  चूक का सही पता लगाने में जुटी है। वरिष्ठ पुलिस पदाधिकारियों का निरीक्षण के पश्चात जांच टीम गठित कर दी गई है ।जो मामले की अनुसंधान बारीकी से कर रही है। बॉर्डर इलाका को सील किया जा चुका है। पुलिस अधीक्षक  ने जानकारी दी है कि इनमें से एक कैदी महबूल को मुफस्सिल थाना के करीब से पकड़ लिया गया है। बताया जाता है कि  इनका एक पैर टूट गया है। जल्द ही दो और कैदियों  को पकड़ लिया जाएगा। पुलिस लगातार संभावित स्थान विशेष पर छापामारी शुरू कर दी है। पुलिस  का प्रयास लगातार जारी है।  शीघ्र ही  दोनों विचाराधीन कैदी पुलिस के गिरफ्त में होंगे। कयास लगाए जा रहे हैं कि यदि ये ऊपर से कूदे होंगे तो निश्चित रूप से इन्हें चोटे भी आई होंगी। बर व्हाल पुलिस सभी एंगल से जांच करने में जुटी है। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि  सेंटर में प्रयुक्त पदाधिकारी एवं पुलिस कर्मी द्वारा बरती गई लापरवाही के लिए उनके विरुद्ध अनुशासनिक कार्रवाई की जाएगी।


Share on Google Plus

Editor - रंजीत भगत, पाकुड़

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें