expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Chandigarh News : विधानसभास सत्र में रेवाडी से विधायक चिरंजीव राव ने युवाओं से जुडाअहम मुद्दा उठाया।

चंडीगढ। आज बुधवार को हरियाणा विधानसभा की कार्यवाई हुई। मात्र एक दिन के लिए हुए विधानसभास सत्र में रेवाडी से विधायक चिरंजीव राव ने मांग रखते हुए कहा कि सारा देश आज कोरोना से लड रहा है। एसे में युवाओं को क्यों जबरन परीक्षा दिलवाई जा रही है। जबकि युवा स्वयं भी इस बात का विरोध कर रहे हैं। जे ई ई और एन ई ई टी के अलावा हरियाणा के विश्वविद्दालयों में भी परीक्षाएं शुरू कर दी गई हैं। राव ने कहा कि रेवाडी में स्थित इंदिरा गांधी विश्वविद्दालय में भी परीक्षा ली जा रही हैं। चिरंजीव राव ने कहा कि पहले तो सरकार ने बोल दिया कि सभी विद्दार्थियों को पास कर दिया जाएगा। लेकिन अब सरकार ने परीक्षा की समय सारणी घोषित कर दी है यह सरकार की दौगली नीति है। राव ने कहा कि सरकार को परीक्षा अभी नही करवानी चाहिए। विधायक चिरंजीव राव ने कहा कि विधानसभा सत्र शुरू होने से पहले सभी विधायकों को कोरोना टेस्ट करवाया गया है। तो फिर विद्दार्थियों का भी कोरोना टेस्ट सरकार को करवाना चाहिए था। हरियाणा के 90 विधायकों में से 10 विधायक कोरोना पॉजिटिव हो सकते हैं तो फिर देश के भविष्य युवाओं के साथ क्यों खिलवाड किया जा रहा है। चिरंजीव राव ने कहा कि उन्होंने पिछले विधानसभा सत्र में भी कोरोना की तैयारियों के बारे में सवाल उठाए थे। चिरंजीव राव ने सदन में पूछा कि यदि परीक्षा के बाद युवाओं में संक्रमण बढा तो उसको जिम्मेदार कौन होगा। इसलिए सरकार को सावधानी बरतते हुए सभी परीक्षाओं को आगे बढाना चाहिए। चिरंजीव राव ने मीडिया से रूबरू  होते हुए कहा कि एक दिन का सत्र होने की वजह से ज्यादा मुद्दे वे नही उठा सके। मुख्यमंत्री व विधानसभा अध्यक्ष के कोरोना पॉजिटिव होने की वजह से मात्र एक ही दिन का सत्र हो सका। इसलिए वे सभी मुद्दे विधानसभा में नही उठा सके। लेकिन उन्होंने सबसे अहम मुद्दा युवाओं से जुडा हुआ अवश्य उठाया। 

Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें