expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

मछुआरों एवं जनता का दायित्व है डॉल्फिन का संरक्षण - विधायक


ग्राम समाचार, भागलपुर। माणिक सरकार घाट आदमपुर में डॉल्फिन पर रिसर्च कर रहे दीपक कुमार के आग्रह पर रविवार को स्थानीय विधायक अजीत शर्मा अपनी पत्नी विभा शर्मा के साथ मानिक सरकार घाट पहुंचे। इस अवसर पर विधायक ने कहा कि डॉल्फिन को हमलोग एक मछली समझने की भूल कर देते हैं। लेकिन वास्तव में डॉल्फिन एक मछली नही है। बल्कि जिस तरह व्हेल एक स्तनधारी प्राणी है उसी तरह डॉल्फीन भी एक स्तनधारी प्राणी है, जो ज्यादातर मीठे पानी में रहना पसंद करती है। ज्ञात हुआ है कि पटना के बदले भागलपुर में नेशनल डॉल्फीन रिसर्च सेंटर खोला जायेगा, जो भागलपुर के लिए बहुत ही गर्व की बात होगी। भागलपुर में डॉल्फिन से संबंधित तमाम तरह के रिसर्च और नई तकनिकी का शोध किया जायेगा। बिहार सरकार ने सबसे पहले पटना में नेशनल डॉल्फीन रिसर्च सेंटर खोलने का निर्णय लिया था। लेकिन सरकार ने अपने निर्णय को बदलते हुए भागलपुर में उक्त सेंटर को खोलने का फैसला लिया है और जल्द ही स्थान का चयन कर लिया जायेगा। डॉल्फिन की सुरक्षा एवं संरक्षण करना मछुआरों एवं जनता का दायित्व बनता है। जिस तरह भागलपुर की पहचान कतरनी चावल, सिल्क एवं जर्दालू आम से जाना जाता है। अब उसी कड़ी में डॉल्फिन भी एक कड़ी के रूप में जुड़ गया है। यह भागलपुर के मान और सम्मान में चार-चाँद लगायेगा। माननीय विधायक ने कहा कि इस विषय पर शोध कार्य में लगे सभी सम्मानित प्रोफेसर एवं विशेषज्ञों का शहर का विधायक होने के नाते दिल से अभिनन्दन एवं स्वागत करते हैं। विधायक की विभा शर्मा ने कहा कि कोरोना जैसे वायरस की वजह से लॉकडाउन में काफी आर्थिक नुकसान हुआ है। लेकिन प्रकृति को इसका जबरदस्त फायदा हुआ है। हवा में प्रदूषण का स्तर कम होना और फैक्ट्रियों के बन्द हो जाने के कारण नदियों का पानी पहले के मुकाबले काफी स्वच्छ हुआ है। इस मौके पर महानगर कांग्रेस अध्यक्ष सह पार्षद संजय कुमार सिन्हा, नवीन सनगही, राकेश कुमार, अजय कुमार सिंह, विभूति भूषण राय, विनोद कुमार राय, अशोक कुमार सिंह, पूनम मिश्रा, हृदय नारायण कुंअर अशोक मंडल, दीपक हजारी, नीरज वर्मा, शिव कुमार सहित कई लोग उपस्थित थे।

Share on Google Plus

Editor - Bijay shankar

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें