expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

पांच सूत्री मांगों को लेकर अतिथि शिक्षकों का धरना

ग्राम समाचार, भागलपुर। राज्य के विश्वविद्यालयों में होने वाली सहायक प्राध्यापक की नियुक्ति में डोमिसाइल नीति लागू करने, विभिन्न विश्वविद्यालयों में कार्यरत अतिथि शिक्षकों की सेवा नियमित करने, सहायक प्राध्यापक नियुक्ति हेतु निर्धारित अधिकतम आयु सीमा 55 वर्ष की बाध्यता से अतिथि शिक्षकों को मुक्त करने, यूजीसी रेगुलेशन 2009 के लागू होने से पूर्व के पीएचडी डिग्रीधारकों के लिए यूजीसी केयर जर्नल या स्कोप्स जर्नल में आलेख प्रकाशन सम्बन्धी बाध्यता को समाप्त करने तथा तत्काल, यूजीसी के निर्देशानुसार राजभवन में लिए गए निर्णय के आलोक में अतिथि शिक्षकों के मानदेय में वृद्धि करते हुए प्रतिमाह 50000 रुपए मानदेय भुगतान करने सम्बन्धी पाँच सूत्री मांगों को लेकर टीएमबीयू अतिथि शिक्षक संघ द्वारा संघ के अध्यक्ष डॉ. आनन्द आजाद की अध्यक्षता में टीएमबीयू परिसर स्थित धरना स्थल पर गुरुवार एकदिवसीय धरना का आयोजन किया गया। धरना को सम्बोधित करते हुए डॉ. आनन्द आजाद ने कहा कि आन्ध्रप्रदेश, तेलंगाना, छत्तीसगढ़, झारखण्ड तथा मध्यप्रदेश की तरह ही बिहार में भी राज्य में होनेवाली सहायक प्राध्यापक की नियुक्ति में डोमिसाइल नीति लागू किया जाय तथा सहायक प्राध्यापक की होने वाली नियुक्ति के पूर्व विभिन्न विश्वविद्यालयों में कार्यरत लगभग 2000 अतिथि शिक्षकों की सेवा को नियमित किया जाय। अगर अविलम्ब हमारी मांग पूरी नहीं की गई तो पूरे प्रदेश में इसको लेकर चरणबद्ध आन्दोलन चलाया जाएगा। डॉ. अरुण पासवान तथा डॉ. सत्यम शरणम ने कहा कि विश्वविद्यालय के निर्देशानुसार कोरोना काल मे भी लगातार ऑनलाइन कक्षा लेने के बावजूद चार माह से अतिथि शिक्षकों का मानदेय भुगतान नहीं होना दुर्भाग्यपूर्ण है। लगातार चार माह से मानदेय नहीं मिलने से अतिथि शिक्षकों के समक्ष घोर आर्थिक संकट उत्पन्न हो चुका है। इसलिए विश्वविद्यालय प्रशासन अविलम्ब अतिथि शिक्षकों के बकाए मानदेय का भुगतान करे। वहीं धरना को सम्बोधित करते हुए बीबी नूरजहाँ तथा ऋतु कुमारी ने कहा कि बिहार सरकार अविलम्ब यूजीसी के निर्देशानुसार राजभवन में लिए गए निर्णय के आलोक में अतिथि शिक्षकों के मानदेय में वृद्धि करते हुए प्रतिमाह 50000 रुपए मानदेय भुगतान संबंधी निर्देश जारी करे। उपरोक्त वक्ताओं के अतिरिक्त आज के धरना कार्यक्रम में बीएनएमयू, मधेपुरा के डॉ. कौशल किशोर चौधरी, डॉ. अमरेन्द्र कुमार, डॉ. मो. अरसदुज्जमा, डॉ. संजय सुमन, डॉ. अफसर अहमद, डॉ. आलोका कुमारी, डॉ. प्रदीप कुमार, डॉ. अजय झा, डॉ. प्रियतम, डॉ. अभिषेक आनन्द, डॉ. चन्दन साह, डॉ. कुन्दन दुबे, डॉ. रामानन्द सागर, डॉ. मोहिनी कुमारी, डॉ. आदित्य कुमार तथा टीना ट्विंकल समेत दर्जनों अतिथि शिक्षक मौजूद थे।

Share on Google Plus

Editor - Bijay shankar

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें