expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Rewari News : सीएम विंडो पोर्टल पर दर्ज लंबित शिकायतों का तत्काल करे समाधान : डीसी

उपायुक्त यशेन्द्र सिंह सीएम विंडो से संबंधित समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए।

ग्राम समाचार न्यूज़ : उपायुक्त यशेन्द्र सिंह ने कहा कि सीएम विंडो पर दर्ज होने वाली शिकायतों का प्राथमिकता के आधार पर निवारण करते हुए एटीआर रिपोर्ट भेजें ताकि जिला प्रशासन को स्कोर ठीक हो सके। उन्होंने कहा कि 30 जुलाई को प्रात: 11 बजे सीएम विंडो की समीक्षा बैठक होगी। इस दौरान आई हुई शिकायतों का निवारण करें। डीसी ने शनिवार को लघु सचिवालय स्थित सभागार में सीएम विंडो पर दर्ज शिकायतों के बारे समीक्षा की। उन्होंने कहा कि सीएम विंडो पर प्राप्त हुई शिकायतों का निपटान तय समय सीमा में किया जाए। उन्होंने बताया कि जब तक शिकायत की एटीआर अपलोड नहीं की जाएगी तब तक शिकायत लम्बित रहेगी। इसलिए समय पर एटीआर अपलोड करें। 
उन्होंने बताया कि सीएम विंडो पर अभी तक कुल 14 हजार 122 शिकायतें प्राप्त हुई हैं, जिनमें से 13 हजार 752 शिकायतों का निपटान कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि बाकी शिकायतों का भी तुरंत निवारण करें। यशेन्द्र सिंह ने पंचायत विभाग की सीएम विंडो पर ज्यादा शिकायतें लंबित पाए जाने पर सख्त लहजे में सभी बीडीपीओ को निर्देश दिए कि अगले 10 दिन में सीएम विंडो पर आई हुई शिकायतों को प्राथमिकता के आधार पर निपटान करें। अन्यथा कार्यवाही की जाएगी। बैठक में बताया गया कि बीडीपीओ रेवाड़ी, डीडीपीओ रेवाड़ी की 38-38, बीडीपीओ नाहड़ की 37, बीडीपीओ डहीना की 30, बीडीपीओ खोल की 18, बीडीपीओ बावल की 15, उप निदेशक कृषि की 14, बीडीपीओ जाटूसाना की 11, एमसी रेवाड़ी की 10, एसडीएम रेवाड़ी की नौ, एलडीएम पीएनबी की सात सीएम विंडो से संबंधित शिकायतें ओवर डयू चल रही हैं। बैठक में एसडीएम रविन्द्र यादव, एसडीएम कोसली कुशल कटारिया, सीटीएम संजीव कुमार, ईओ एमसी विजयपाल, सभी बीडीपीओ सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।
Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें