Mihijam News (Jamtara) कोरेंटिन सेंटर को हटाकर अन्य स्थान पर स्थानांतरित करने को लेकर उपायुक्त को सौपा ज्ञापन



ग्राम समाचार मिहिजाम:
घनी आबादी क्षेत्र से कोरेंटिन सेंटर को हटाने को लेकर मंगलवार को जामताड़ा उपायुक्त गणेश कुमार को मिहिजाम के समाजसेवी बालमुकुन्द रविदास, धर्मेन्द्र गुप्ता, गणेश मिस्त्री एवं राकेश सिंह ने ज्ञापन सौंपा। सौपे गए ज्ञापन में उपायुक्त से कहा गया कि मिहिजाम के नागरिक मिहिजाम के भारत माता कल्याण मंडप डाकबंगला मिहिजाम में बनाए गए क्वॉरेंटाइन सेंटर जो जिला परिषद जामताड़ा के आधीन है, इस कोरेंटिन सेंटर को घनी आबादी क्षेत्र से हटा कर अन्य जगह में स्थानांतरित किया जाए। ज्ञात हो कि भारत माता मंडप के देखरेख के लिए भारत माता मंडप में एक परिवार भी रहता है जिसकी परिवारों की कुल संख्या पांच है, जोकि कोरेंटिन सेंटर के परिसर में ही रहता है और वे लोग हमेशा हाट बाजार और आम लोगों से मिलना जुलना करते रहते हैं, जिससे कोविद-19 के प्रकोप फैलने का भय बना हुआ है। वही कोरेंटिन सेंटर के आस-पास दुकानें भी है तथा घनी आबादी युक्त मोहल्ला भी है और साथ ही मिहिजाम प्रशासन की ओर से बाजार के सब्जी मार्केट को उठाकर कोरेंटिन सेंटर के बगल स्थित बेसिक स्कूल के परिसर में सब्जी बाजार लगाने का आदेश दिया गया है, जो की पिछले तीन महीने से चल रहा है। कोरेंटिन सेंटर के ठीक सामने राष्ट्रीय राजमार्ग 419 आसनसोल जामताड़ा मुख्य सड़क भी है, जहां हजारों की संख्या में लोग आवागमन करते रहते हैं। वही कहा गया की कोरेंटिन सेंटर में कोरेंटिन किए गए लोगों के परिवार प्रतिदिन भोजन सामग्री कोरेंटिन सेंटर परिसर में प्रवेश कर देते हैं और बैरंग लौट जाते हैं। सुरक्षा की दृष्टीकोण से ये सब को देखते हुए एक अच्छी पहल की जानी चाहिए। वही मिहिजाम के समाजसेवियों ने जामताड़ा उपायुक्त से निवेदन करते हुए कहा कि डाक बंगला परिसर से कोरेंटिन सेंटर को हटाकर अन्य स्थान पर स्थानांतरित करने को लेकर विचार विमर्श किया जाए।
रोहित शर्मा, ब्यूरो, जामताड़ा
Share on Google Plus

Editor - रोहित शर्मा, जामताड़ा

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें