expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Bhagalpur News: अकबरनगर-भागलपुर मुख्य मार्ग पर आठ घंटे का महाजाम, नहीं हिले वाहनों के पहिए



ग्राम समाचार भागलपुर ।सोमवार को देर रात से जाम लगने के बादमंगलवार के अहले सुबह अकबरनगर भागलपुर मुख्य मार्ग पर एक पिकअप वैन बीच सड़क पर फसने के कारण आठ घण्टे तक लंबा जाम लग गया। जाम लगने के कारण सड़क के दोनों ओर करीब नौ किलोमीटर तक छोटे बड़े सहित सैकड़ों गाड़ियों की लंबी कतारें लग गई।

जाम के कारण अकबरनगर भागलपुर सुल्तानगंज व शाहकुण्ड तीनो मार्ग पर घण्टों आवागमन बाधित हो गयी।जिससे यात्री और राहगीर परेशान दिखे। हालांकि ग्रामीणों और चालकों की काफी मशक्कत के बाद लोगों को जाम से मुक्ति मिली। 

मंगलवार को अहले सुबह करीब तीन बजे अकबरनगर भागलपुर मुख्य मार्ग पर थाने के समीप बीच सड़क पर बने गढ्ढे में प्याज से ओवरलोड पिकअप वैन फस गया। बीच सड़क पर पिकअप वैन फसे रहने के कारण आठ घण्टो तक जाम की स्तिथि उत्पन हो गयी। देखते ही देखते भागलपुर, शाहकुंड एवं सुल्तानगंज की ओर करीब नौ किलोमीटर तक वाहनों की कतारें लग गयी। आठ घण्टे तक लगातार जाम रहने के कारण यात्री परेशान हो दिखे। 

रोजाना लग रहे जाम में दर्जनों एम्बुलेंस, कुरियर वाहन सहित अन्य अधिकारियों की गाड़ी भी जाम में फस जाती है। सड़क की स्तिथि काफी खराब व ट्रकों के अधिक संख्या में परिचालन होने से लोग परेशान है। व्यस्त सड़क और बड़ी वाहनो के चलने के कारण हर दिन जाम लगना आम बात हो गयी है। लेकिन इस भीषण जाम से निजात दिलाने के लिए अधिकारी कोई ध्यान नही दे रहे है। 

अकबरनगर में प्रतिदिन तीन से चार घण्टे तक लोगों को जाम से रूबरू होना पड़ता है। इसका मुख्य कारण यह है कि मुरारपुर बाईपास से सैकड़ो की संख्या में ट्रकों का परिचालन अकबरनगर, भागलपुर, सुल्तानगंज और शाहकुंड की ओर होता है।

वही अकबरनगर की जर्जर सड़क होने की वजह से ट्रक का गुल्ला टूट जाता है या फिर दुर्घटनाग्रस्त हो जाती है। जिससे राहगीर को रोजाना दो से तीन घण्टे तक जाम की परेशानी झेलनी पड़ती है। रोजाना चल रहे राहगीर को जाम में फसने की आदत व मजबूरी हो गयी है। लेकिन जिला प्रशासन इस और कोई ठोस कार्रवाई नही कर पा रही है। आखिर राहगीर को जाम से कब छुटकारा मिलेगा। 

Share on Google Plus

Editor - रजनीश कुमार

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें