Jamtara News सरकार का एकमात्र उद्देश्य है कि लोगों को रोजगार मिले इसे सभी संबंधित पदाधिकारी, बीपीओ, रोजगार सेवक गंभीरता से लें: उप विकास आयुक्त

ग्राम समाचार जामताड़ा:
आज दिनांक 20 मई 2020 को समाहरणालय स्थित उप विकास आयुक्त कार्यालय में उप विकास आयुक्त श्री नागेंद्र कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में बिरसा हरित ग्राम योजना के क्रियान्वयन से संबंधित बैठक आयोजित की गई। उप विकास आयुक्त श्री नागेंद्र कुमार सिन्हा ने कहा कि झारखंड सरकार ने हाल ही में तीन कल्याणकारी कार्यक्रम शुरू किए हैं, जो निवासी श्रमिकों और आने वाले प्रवासी मजदूरों को रोजगार प्रदान करने पर केंद्रित हैं। इन तीन योजनाओं को महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के साथ मिलकर काम करने के लिए तैयार किया गया है। उप विकास आयुक्त ने सभी बीपीओ को निर्देश दिया की  योजनाओं का क्रियान्वयन हेतु बागबानी योजनाओं का गड्ढा खुदाई का कार्य जल्द से जल्द पूर्ण करने का निर्देश दिया गया। प्रत्येक ग्राम में 5 योजना चलाने का निर्देश दिया गया। मनरेगा के तहत जो भी मजदूर काम मांगे उसको अपने गांव में ही काम उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया। ससमय मजदूरी भुगतान करने हेतु सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को निर्देश दिया गया किसी भी परिस्थिति में मजदूरी भुगतान विलंब नहीं हो। उप विकास आयुक्त द्वारा कहा गया कि मनरेगा कर्मी को कोरोना वायरस से संबंधित कार्यों में लगाया गया था। उसे अब उक्त कार्य से हटा दिया गया है, फिर भी उक्त कर्मी के द्वारा कार्य गम्भीरता से नहीं लिया जाना खेद जनक है। डीआरडीए निदेशक श्री रामवृक्ष महतो ने कहा की बिरसा मुंडा बागवानी योजना को लेकर इस योजना से संबंधित जानकारी दी। बताया कि एक एकड़ जमीन के मालिक मनरेगा योजना से आम की बागवानी कर सकते हैं। मनरेगा अंतर्गत बागवानी करने से किसान अपनी बागवानी में 100 दिन का कार्य मनरेगा के तहत कर सकता है, जिससे अपनी परिसंपत्ति भी बनेगी और मजदूरी भी प्राप्त होगी। किसान एक एकड़ में आम की खेती कर शुरू में 15 से 20 हजार कमा सकता है, लेकिन साल बीतने के बाद इससे लाखों की कमाई हो सकती है। वहीं इमारती पौधों से लाखों की परिसंपत्ति भी बनना निश्चित है। उप विकास आयुक्त ने कहा कि पात्र लोगों को मनरेगा योजना का लाभ दिया जाए। मनरेगा के अंतर्गत होने वाले कार्य गुणवत्ता युक्त होनी चाहिए ताकि जनता उनका लंबे समय तक लाभ ले सके। उप विकास आयुक्त द्वारा निर्देश दिया गया कि सभी योजनाओं के साथ एनजीओ को टैगिंग करते हुए सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन करवाना सुनिश्चित करेंगे साथ ही कार्य स्थल पर सैनिटाइजर मास की उपलब्धता सुनिश्चित करेंगे। उप विकास आयुक्त द्वारा सभी बीपीओ को निर्देश दिया कि जो टारगेट दिया गया है उसे पूर्ण करें तथा अगर कोई समस्या आती है तो उसे हम लोगों से साझा करें। उप विकास आयुक्त द्वारा निर्देश दिया गया कि सभी संबंधित पदाधिकारी, कर्मी, एनजीओ समन्वय स्थापित करके मनरेगा के तहत किए जाने वाले कार्यों के लिए स्थल का चुनाव अच्छा से करें। जहां लोग इंटरेस्टेड है वैसे स्थानों को प्राथमिकता दी जाए। उप विकास आयुक्त द्वारा कहा गया कि कोरोना संक्रमण के इस वैश्विक संकट के दौरान लोगों की रोजी रोटी छीन गई है। इसके साथ ही हजारों की संख्या में प्रवासी मजदूर और नागरिक बेरोजगार होकर वापस गांव लौट रहे हैं। इन लोगों को रोजगार से जोड़ना एक बड़ी समस्या बनने वाली है। लोगों को रोजगार से जोड़ने के लिए जिला प्रशासन उन्हें मनरेगा की योजनाओं से जोड़ने की कवायद में दिन रात जुटा है।

ज्ञात हो कि उपायुक्त जामताड़ा श्री गणेश कुमार (भा.प्र.से.) और उप विकास आयुक्त श्री नागेंद्र कुमार सिन्हा इसके लिए प्रखंड स्तर पर लगातार समीक्षा कर रहे हैं।

सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों, पंचायतों के मुखिया, प्रखंड समन्वयक पीएमएवाई, प्रखंड समन्वयक 14वें वित्त, बीपीओ मनरेगा आदि के साथ बैठकें की जा रही हैं। मनरेगा के तहत बिरसा हरित ग्राम योजना में भूमि का चयन किया जा रहा है।साथ ही बहुत से स्थानों में कार्य प्रारम्भ भी कर दी गई है। वीर शहीद पोटो हो खेल विकास योजना के तहत प्रत्येक पंचायत में खेल का मैदान विकसित करने के लिए निर्देश दिया गया है। आम बागवानी नई योजना के तहत निर्देश दिया गया कि रोजगार सेवक उसे पेंडिंग नहीं रखते हुए जल्द से जल्द स्वीकृति प्रदान करेंगे। तत्पश्चात वहां पर शीघ्र कार्य प्रारंभ किया जाएगा। परियोजना पदाधिकारी मोतिउर रहमान द्वारा आम बागवानी के संबंध में सभी को तकनीकी जानकारी दी गई। आम बागवानी के लिए किस प्रकार से गड्ढों को खोदना है तथा वापस गड्ढों को कैसे भरना है, गड्ढों का साइज क्या होना चाहिए और मिट्टी अगर ऊबड़ खाबड़ हो तो वहां पर लेआउट कैसे तैयार करना है, इसकी जानकारी दी गई। उन्होंने अच्छी उपज के लिए मिट्टी की गुणवत्ता कैसी होनी चाहिए इस बारे में भी उनके द्वारा विस्तृत जानकारी दी। मौके पर डीपीएम श्रीमती रीता सिंह,परियोजना अर्थशास्त्री श्री अनूप कुमार, बदलाव फाउंडेशन सचिव श्री अरविंद कुमार, रूमा चटर्जी प्रोजेक्ट मैनेजर आशा एनजीओ सभी प्रखंड के बीपीओ एवं संबंधित पदाधिकारी सहित अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे।
रोहित शर्मा, ब्यूरो, जामताड़ा
Share on Google Plus

Editor - रोहित शर्मा, जामताड़ा

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें