Dumk News :-लोक शिक्षा केन्द्रों क़े प्रेरकों क़ो बकाया मानदेय भुगतान कराने क़े लिये एक सप्ताह क़े अंदर सभी लोक शिक्षा केन्द्र एवं माडल लोक शिक्षा केन्द्र क़ो उपलब्ध कराया गया ।

ग्राम समाचार रानीश्वर दुमका : जिला साक्षरता समिति क़े अध्यक्ष सह उपायुक्त राजेश्वरी बी ने जिले क़े सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी क़ो पत्र भेजकर लोक शिक्षा केन्द्रों क़े प्रेरकों क़ो बकाया मानदेय भुगतान कराने क़े लिये एक सप्ताह क़े अंदर सभी लोक शिक्षा केन्द्र  एवं माडल लोक शिक्षा केन्द्र क़ो उपलब्ध कराया गया लेखन सामग्री एवं उपस्कर प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी क़े पास जमा कराने का आदेश दिया हैं । साथ ही दिनांक 25 अप्रैल क़ो निर्गत पत्र मे लिखा गया हैं की 30 जून तक मानदेय राशि की भुगतान करना हैं । सामग्री वापस नहीं करने पर मानदेय भुगतान क़ो लेकर प्रेरक स्वयं जवाबदेह होगा । वर्ष 2010 मे साक्षर भारत मिशन क़े तहत दुमका क़े साथ राज्य क़े चार जिला मे कार्यक्रम शुरू किया गया था । जिसका मुख्य उद्देश्य था पुरुष एवं महिला साक्षरता दर मे दूरी क़ो पाटना । बाद मे राज्य क़े प्राय सभी जिला मे साक्षर भारत कार्यक्रम शुरू हुई थी । 31-03-2018 क़ो पूरे राष्ट्र मे इस कार्यक्रम क़ो बंद कर दिया गया हैं । साथ ही यहा जिला एवं प्रखंड साक्षरता समिति का नेट वर्क खत्म हो गया हैं । डी .सी .दुमका जिला समिति क़े अध्यक्ष एवं जिला शिक्षा अधीक्षक मारीया गरोथी तिर्की सचिव हैं । प्रखंड विकास पदाधिकारी प्रखंड समिति क़े अध्यक्ष एवं प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी सचिव हैं । कार्यक्रम की संचालन हेतु जिले क़े सभी दस प्रखंड मे कार्यक्रम प्रबंधक का चयन किया गया था । कार्यक्रम बंद होने क़े बाद कार्यक्रम प्रबंधकों ने अपना पेशा बदल लिया हैं । लेखन सामग्री एवं उपस्कर वापस करने को लेकर प्रेरकों ने बताया हैं की माडल लोक शिक्षा केन्द्रों कों जो सामग्री उपलब्ध कराया गया था , उसका अधिकांश समान जिला एवं प्रखंड कार्यालय मे जमा हैं । लोक शिक्षा केन्द्रों कों प्लास्टिक का टेबुल , कुर्सी , बाल्टी , मग , दरी उपलब्ध कराया गया था वह टूट फुट गया हैं । जिले क़े 206 ग्राम पंचायतों क़े लोक शिक्षा केन्द्रों क़े प्रेरकों कों बकाया मानदेय भुगतान हेतु राज्य साक्षरता मिशन प्राधिकरण ने जिला समिति कों पूर्व मे ही 24 लाख की राशि उपलब्ध कराया हैं । जानकारी क़े अनुसार जून 17 से मार्च 18 तक क़े अवधी क़े प्रेरकों का छह महीना से एक साल तक का मानदेय भुगतान करना हैं । माडल लोक शिक्षा केन्द्र पाटजोड़ क़े प्रेरक देबाशीष घोषाल ने बताया हैं की केन्द्र कों आवंटित प्रोजेक्टर डी .सी .क़े कार्यालय मे हैं । जबकी जेनरेट एवं अन्य उपस्कर प्रखंड विकास कार्यालय मे जमा हैं । इस परिस्थिति मे उपस्कर वापस जमा करने की हवाला देकर बकाया मानदेय भुगतान करने की शर्त लगाने कों लेकर प्रेरकों मे क्षोभ व्याप्त हैं ।
Share on Google Plus

Editor - अनुज कुमार (बाबला झा) Mo-9570100701 Wa-9304352701

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें