Rewari News : बारिश के बाद शहर में हुए जलभराव का पूर्व जिला प्रमुख ने जायजा लिया

 



  • ग्राम समाचार न्यूज : रेवाड़ी : शहर में दो दिन की बरसात से शहर में जगह-जगह जलभराव के बाद आम आदमी घरों में कैद होकर रह गया। बरसात के दौरान पूर्व जिला प्रमुख सतीश यादव शहर की विभिन्न कालोनियों व जलभराव वाले क्षेत्र में लोगों के बीच पहुंचे और प्रशासन से तुरंत बरसाती पानी को बाहर निकालने के लिए कहा।  
     सतीश यादव ने कहा कि ऐसे हालत हमारी औद्योगिक नगरी धारूहेडा क्षेत्र की है विश्व के मानचित्र पर धारुहेडा का नाम होने के बावजूद विकास के नाम पर बरसात मे जिस तरह से धारूहेडा के लोग त्राहि-त्राहि कर रहे हैं और राष्ट्रीय राजमार्ग पर वाहनों के लंबे जाम से आम जनजीवन थम सा गया। हालात यह थे कि एंबुलेंस में फंसे मरीजो की भगवान का नाम लेलेकर जान बची होगी।






  • सतीश यादव ने कहा कि दो दिन की बरसात में आजतक के विकास कार्यों की पोल खोल कर रख दी है। जनता घरो मे कैद है वही सड़कों पर निकले लोगो के वाहन जलभराव में बन्द हो जाने से जगह-जगह जाम की स्थिति उत्पन्न हो गई। जाम की स्थिति और लोगों को घरों में कैद देखकर क्षेत्र मे विकास के नाम पर खर्च किया गया अरबों खरबों रुपया बर्बाद होता जनता देख रही है। जिस रुपए को हमारे छह बार के विधायक और मंत्री रहे कैप्टन अजय सिंह यादव के शासनकाल के दौरान खर्च किया गया। सतीश यादव ने केंद्रीय मंत्री और सांसद राव इंद्रजीत सिंह को भी इन हालातों के लिए जिम्मेदार बताया।


  • पूर्व जिला प्रमुख सतीश यादव ने कहा कि अगर ईमानदारी से विकास कार्यों पर काम होता, बरसाती पानी की निकासी और सीवरेज को व्यवस्थित तरीके से डाला जाता तो शहर के ऐसे हालात नहीं होते। उन्होंने कहा कि बरसात के बाद कोई सड़क मार्ग ऐसा नहीं है जहा सडको पर गडढे न हो, टूटी सड़कों पर बरसाती पानी के जमा हो जाने से बीमारियां पनपेगी। जिसके लिए हमारे यह दोनों नेता जिम्मेदार है जिन्हें जनता ने बार-बार चुनाव में विजय बनाया और यह लोग स्वयं तो तरक्की कर गए लेकिन आज भी जनता बदहाली का जीवन जीने को मजबूर है।
Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education