Bounsi News: पुलिस ने 16 दिनों से गायब छात्रा को किया बरामद

ग्राम समाचार,बौंसी,बांका। बौंसी पुलिस ने 16 दिनों से गायब छात्रा को सकुशल बौंसी बाजार से शुक्रवार को बरामद किया है। बताया जाता है कि, नाबालिग छात्रा को बौंसी थाना क्षेत्र के झपनिया गांव निवासी देवेंद्र मांझी की पत्नी नीतू देवी के द्वारा कहीं बेचे जाने की योजना बनाई जा रही थी। इस मामले में बौंसी थाना में छात्रा के पिता ने प्राथमिकी दर्ज कराई थी। जिसमें बताया गया था कि, 11 जुलाई को करीब 6:00 बजे सुबह सौच के लिए निकली नाबालिग छात्रा घर नहीं पहुंची थी। मामले में गांव के उक्त छात्रा को उसके ही कक्षा के एक युवक द्वारा बौंसी बाजार पहुंचाया गया था। बताया जाता है कि, छात्रा को मां के द्वारा डांट फटकार लगाई गई थी। जिसके बाद वह घर से भागकर बौंसी बाजार पहुंच गई थी। जहां उक्त महिला के द्वारा बहला-फुसलाकर उसे अपने घर में रखा गया 

था और कहीं शादी करा देने की योजना थी। इसी बीच कांड के अनुसंधानकर्ता ज्योति कुमारी को छात्रा के बौंसी बाजार में होने की सूचना मिली। जिस पर थानाध्यक्ष अरविंद कुमार राय के निर्देश पर पुलिस टीम का गठन किया गया। एसआई अनिरुद्ध कुमार और एएसआई उपेंद्र तिवारी के साथ कांड की अनुसंधानकर्ता ज्योति कुमारी पुलिस बल के साथ पहुंच कर बस स्टैंड समीप से उक्त महिला के साथ छात्रा को बरामद कर लिया गया। आशंका जताई जा रही है कि, छात्रा को यूपी में कहीं शादी के नाम पर बेचे जाने का प्रयास किया जा रहा था। इस मामले में थानाध्यक्ष अरविंद कुमार राय बताया कि, मामले में प्राथमिकी पूर्व में दर्ज की गई थी। जिसके बाद छात्रा को खोजा जा रहा था। गिरफ्तार महिला को न्यायिक हिरासत में बांका जेल भेजा जाएगा। जेल भेजे जाने के पूर्व उसकी कोरोना जांच भी कराई जाएगी। मालूम हो कि प्रखंड क्षेत्र में यूपी के लड़कों से विवाह करने का मामला चल रहा है। 

कुमार चंदन,ग्राम समाचार संवाददाता,बौंसी।

Share on Google Plus

Editor - कुमार चन्दन, बाँका (बिहार)

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education