Suiya News: मृत शब्बीर अंसारी के परिजनों ने सूईया पुलिस पर लगाया जान से मारने का आरोप,पत्नी ने आवेदन देकर कार्रवाई करने की लगाई गुहार

ग्राम समाचार,सूईया,बांका। सूईया थाना क्षेत्र में मंगलवार को शिवलोक के निकट हुए तेतरिया पंचायत के पूर्व मुखिया शबीर अंसारी की मौत पर नया मोड़ आ गया है।एक दिन बाद इसके विरोध में स्थानीय लोगों सूईया बाजार के कटोरिया सुल्तानगंज मुख्य सड़क को जाम कर दिया। मृतक युवक के परिजनों ने सुईया पुलिस पर सीधे-सधे मार पीट  कर जान मारने का आरोप लगाते हुए कटोरिया मुख्य मार्ग घंटों जाम कर दिया।मृतक के परिजनों ने आरोप लगाया कि शिवलोक मंदिर के सामने शराब के नशे में टहल रहे बीएमपी जवानों से टक्कर हो गई। जिसके बाद मौके पर मौजूद लगभग 10 से 12 की संख्या में जवानों ने बेरहमी से पीटकर उसकी 


हत्या कर दी। मृतक के साथ मारपीट करते हुए उसके चाचा अलाउद्दीन मियां ने रोकने की कोशिश की। लेकिन जवान नहीं माने। इधर चाचा से घटना की जानकारी मिलने पर मृतक की पत्नी नूरैशा खातून  ने सुईया थाना में प्राथमिकी दर्ज के लिए आवेदन दिया।बता दें कि मृतक कटोरिया बाजार कपड़ा खरीदने गया था। वापस लौटने के क्रम में मृतक के बाईक से नशे की हालत में चल रहे सूईया थाना में पदस्थापित जवान को ठोकर लग गई ।इस घटना में बीएमपी जवान जख्मी हो गए।जिसका इलाज देवघर में चल रहा है। सड़क जाम कर प्रदर्शनकारियों का उग्र रूप देख सूईया थाना प्रभारी देवेन्द्र कुमार राय ने उच्च अधिकारियों को सूचित किया। मौके पर जाम को हटाने के लिए बेलहर एसडीपीओ प्रेमचंद सिंह, के साथ कई थाना अध्यक्ष, एवं चांदन अंचलाधिकारी प्रशांत शाण्डिल्य को समझाने बुझाने के बाद सड़क जाम हटाया गया। खास बात तो यह रही कि उग्र प्रदर्शन देख पुलिस महकमे में खलबली पहूंच गई। इस संबंध में अंचलाधिकारी प्रशांत साण्डिल्य ने बताया कि मामले की छानबीन कर दोषी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। 

उमाकांत साह,ग्राम समाचार संवाददाता,चांदन।

Share on Google Plus

Editor - कुमार चन्दन, बाँका (बिहार)

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education