Rewari News : किसानों के संघर्ष के सबसे बड़े हमदर्द दीपेन्द्र हुड्‌डा : महाबीर मसानी

रेवाड़ी। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता महाबीर मसानी ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और राज्यसभा सांसद दीपेन्द्र हुड्‌डा को किसानों से मिलने से पहले ही हिरासत में रखकर उन्हें किसानों से मिलने के लिए रोकने को दुर्भाग्यपूर्ण बताया हैं। महाबीर मसानी ने कहा कि आज देशभर में कोई किसानों की आवाज उठा रहा हैं तो वह कांग्रेस संगठन है और इस संगठन में अगर कोई दल से उपर उठकर किसानों के साथ-साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा हैं तो वह हरियाणा के लोकप्रिय नेता एवं राज्यसभा सांसद दीपेन्द्र हुड्‌डा हैं।



महाबीर मसानी ने पिछले साल नंवबर में शुरू हुए किसानों के संघर्ष के शुरूआत के दिन से चौधरी भूपेन्द्र सिंह हुड्‌डा व दीपेन्द्र हुड्‌डा किसानों के साथ खड़े हैं। उन्होंने कहा कि गाजीपुर बॉर्डर पर किसान नेता राकेश टिकैत पर सरकार द्वारा तानाशाही करने के वक्त भी किसानों के बीच पहुंचने वाले सबसे पहले नेता था। इसके अलावा जयंत चौधरी के साथ हुई ज्यादती हो या फिर किसानों पर हुए लाठीचार्ज हर समय दीपेन्द्र हुड्‌डा सबसे आगे मिले। इतना ही नहीं दीपेन्द्र हुड्‌डा हर उस किसान के घर गए, जिसने इस आंदोलन के दौरान शहादत दी। साथ ही उन किसान परिवारों की आर्थिक सहायता का बीड़ा भी चौधरी भूपेन्द्र सिंह हुड्‌डा व दीपेन्द्र हुड्‌डा ने उठाया हैं। उन्होंने कहा कि दीपेन्द्र किसानों के संघर्ष के साथी। लखीमपुर खीरी में किसानों को कुचलकर मारने की घटना के बाद भी सबसे पहले प्रियंका गांधी और दीपेन्द्र हुड्‌डा ही रवाना हुए, लेकिन तानाशाह सरकार ने उन्हें पीड़ित किसान परिवारों से मिलने नहीं दिया। गलत तरीके से प्रियंका गांधी और दीपेन्द्र हुड्‌डा को हिरासत में लिया गया और फिर उन्हें गिरफ्तार किया गया। महाबीर मसानी ने कहा कि अतीत इस बात का गवाह है जब भी 

किसान संघर्ष  जोर उनपर जुल्म की बात आई हमेशा सबसे आगे दीपेंद्र जनता और किसानों के साथ खड़े नजर आए। महाबीर ने कहा कि दीपेंद्र हुड्डा दल की दलगत राजनीति से ऊपर उठ कर मुद्दों की राजनीति करते हैं हमें गर्व है हरियाणा का एक सांसद तो है जो जनता की आवाज बनता है।

Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education