Jamtara News: विकास कार्य देख विरोधी बौखला गए: परेश यादव

 ग्रा


म समाचार नाला (जामताड़ा): नाला विस क्षेत्र में विकास की बयार बह रही है। इसे देख विरोधियों को हजम नही हो रहा है। नाला विस में पुल पुलिया, सड़क, पेयजल के निर्माण कार्य तेज गति व योजनाबद्ध तरीके से हो रहा है। ये बातें फतेहपुर प्रखंड के झामुमो प्रखंड अध्यक्ष परेश यादव एवं प्रखंड सचिव वकील सोरेन ने प्रेस बयान जारी कर कहा। कहा कि नाला के पूर्व भाजपा विधायक सत्यानंद झा ने कृषि मंत्री रहने के बाद भी नाला विस का कोई विकास नही किया। अभी जब झामुमो विधायक सह स्पीकर रवींद्रनाथ महतो ने विकास का कार्य तेजी शुरू किया है तो अनाप शनाप बयान बाजी पर उतर आए हैं। उनके समय मे एक भी नल लोगों को नही मिला। अभी वर्तमान विधायक श्री महतो ने एक साथ 300 नल गाड़ने का कार्य शुरू किया है। लोगों को पेयजल के कोई संकट का सामना न करना पड़े इसलिए विधायक  स्वत क्षेत्र का संज्ञान लेकर नल गाड़ रहे हैं। 

नेताद्वय ने कहा कि कृषि मंत्री रहते सत्यानंद झा ने छोटे छोटे भी विकास का काम नही किया। अभी जब विकास हो रहा है तो इनको झामुमो के लोगों के घर पर नल गाड़ने की शिकायत मिल रही है। कहा कि झामुमो के लोग क्या के लोग हैं। जिस दरवाजे में नल गाड़ा जा रहा है, वहां क्या सिर्फ झामुमो के ही लोग हैं। जिनको ठीक से देख कर बयान बाजी करना चाहिए।  कहा कि नाला विस के लोग बहुत अच्छे हैं जो बाहरी लोगो के भड़काने के बाद भी लोगों ने जीता कर विस भेजा। झारखंड के एक सम्मानित पद पर आसीन हैं। समय कम रहने के बाद भी बराबर क्षेत्र पहुंच कर लोगों की समस्याओं से अवगत होते हैं। 

कहा कि कृषि मंत्री रहते हुए जिले के बदहाल पशु अस्पतालों का जीर्णोद्धार नही किया। एक भी चिकित्सक नही मंगवा सके। नाला के बारघेरिया मोड़ पर लाखों का दुग्ध शीतक केंद्र बनाया, जो सिर्फ पैसों का बंदरबांट किया गया। किसानों को कुछ भी लाभ नही मिला। लाखों की मशीन बर्बाद हो रही है। ये चीजें उनको दिखाई नही देती है !

 -राजकिशोर यादव ग्राम समाचार बंदरडीहा (नाला) 


Share on Google Plus

Editor - सरिता, जामताड़ा (झारखंड).

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education