expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Online Education


Rewari News : वार-पलटवार : रामपुरा हॉउस व कप्तान हॉउस इलाके के विकास में रोड़ा : डॉ राजपाल

इनेलो जिला प्रधान डॉ राजपाल यादव ने  सरकार के  डाउन डाउन में ढील देने के फैसले पर कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा कि कोरोना महामारी के दौर में खुद सरकार मई महीने को पीक का समय मान कर  चल रही थी और आमजनों से भी बार बार अपील कर रही कि कोरोना का पीक अभी आने वाले है तो सरकार की ऐसी क्या मजबूरी हुई कि उसे छूट देनी पड़ी। इनेलो प्रधान ने कहा कि सरकार ने व्यापरियों के या आमजन की सुविधा के लिए नही बल्कि शराब की दुकान खोलने के लिए ढील दी  ताकि सरकार को राजस्व मिल सके। सरकार ने बिना तैयारी के लिए फैसला आमजन के लिए नुकसानदेह हो सकता है। इसके साथ ही व्यापरियों के लिए दुकानों को खोलने के लिए  निर्धारित समय कम है । जिससे बाजार में भारी भीड़ उमड़ रही है।



इनेलो जिला प्रधान डॉ राजपाल यादव ने कांग्रेस विधायक व बीजेपी नेताओं की आपसी छीटाकशी पर कहा कि जो भाषा दोनों पार्टियों के नेता बोल रहे है वो अशोभनीय है और एक दूसरे को नीचा दिखाने का काम कर रहे है इनको आम जनता से कोई लेना देना नही। इसके साथ ही इस इलाके  के पिछड़ेपन का दोषी अगर कोई है तो वो रामपुरा हाऊस व कप्तान हाऊस ही हैं क्योंकि रेवाड़ी में  इनके अलावा कोई और तो सत्ता में रहा नही । इनकी नाकामी की वजह से आज जिले में समस्याओं का अंबार लगा हुआ  हैं व न कोई बड़ी परियोजना, हॉस्पिटल या एम्स न बन पाने का सबसे बड़ा कारण इनकी आपसी राजनीति ही हैं। जिसका खामियाजा आज रेवाड़ी की जनता को भुगतना पड़ रहा है। डॉ राजपाल यादव ने कहा कि  इनेलो पार्टी ने तीन अस्पताल आमजन के लिए खोल दिये जबकि सरकार  केवल झूठी वाहवाही लूटने के चक्कर मे रहती है। ये ही हाल रेवाड़ी में कांग्रेस व बीजेपी नेताओं का है जो कोई भी  काम सिर्फ वाहवाही लूटने के लिए करते है।  इनेलो प्रधान ने  एक तरफ सरकार वैक्सीन की कमी को पूरा  नही कर पा रही ऊपर से लोक डाउन में इस प्रकार की ढील देना कोरोना के केसों को बढ़ाने जैसा है। क्योंकि इस महामारी में जिसने भी अपने परिचितों परिजनों व साथियों को खोया है उनके दिल पर क्या बीत रही है उनसे जाकर कोई पूछे। जिसने भी इस महामारी में अपने प्राण गवाए उसकी जिम्मेदार सिर्फ सरकार है वो सरकार की लचर व्यवस्था के चलते इस दुनिया मे नही रह पाए । सरकार का लोक डाउन में ढील देना तब तो कुछ हद तक सही होता जब प्रदेश के हर व्यक्ति को वेक्सीन लगी होती या कोरोना संक्रमण के केस में भारी कमी आयी हुई होती। अचानक इस प्रकार के फैसले से संक्रमण की चैन को तोड़ना मुश्किल होगा । इसलिए सरकार को लोक डाउन की अवधि को बढ़ाना चाहिए था इसके साथ ही मजदूर,गरीब परिवार के लोगो की हर प्रकार से  खाने पीने के समान की व्यवस्था सरकार को करनी चाहिए थी ताकि कोई भी व्यक्ति किसी अभाव में भूखा न रहे। डॉ राजपाल यादव ने 26 मई को किसानों का समर्थन करते हुए इनेलो पार्टी शुरू दिन से किसानों के साथ है ओर 26 मई को समस्त पार्टी पदाधिकारी व कार्यकर्ता अपने घरों पर काले झंडे लगाकर विरोध प्रदर्शन करेंगे।
आमजन से अपील करते हुए डॉ राजपाल यादव ने कहा कि हमे सयंम रखते हुए अपनी जान की फिक्र खुद करनी है इसलिए कोरोना नियमों का पालन पूरी तरह से करे ताकि संक्रमण की इस चैन को तोड़ा जा सके।
Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें