expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Online Education


Rewari News : जेल की बड़ी लापरवाही आई सामने, रेवाड़ी की फिदेड़ी जेल से 13 कैदी फरार हुए

रेवाड़ी में कोविड जेल से 13 कैदी फरार हो गए हैं। इन सभी आरोपियों को संगीन धाराओं के चलते जेल में बंद किया गया था। 13 कैदियों के अचानक फरार. बंदी फरार होने के बाद पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया.गांव फिदेड़ी में नई जेल बनाई गई है। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए फिदेड़ी जेल को करीब सप्ताहभर पूर्व प्रदेश की कोविड जेल बना दिया गया था। जिसमे प्रदेश के विभिन्न जिलों से कोरोना संक्रमित कैदियों को रखा गया है बैरक में बंद 13 बंदी ग्रिल काटकर बाहर निकल आए तथा चादर की रस्सी बनाकर जेल की दीवार फांदकर फरार हो गए। फरार हुए सभी बंदी संगीन धाराओं के तहत बंद थे।



रेवाड़ी के फिदेड़ी गांव स्थित कोविड जेल से 13 कैदी फरार हुए. जेल प्रशासन की बड़ी लापरवाही आई सामने. कैदियों को पकड़ने के लिए 4 टीमों का किया गया गठन. फरार कैदियों में 4 रेवाड़ी तथा 9 महेंद्रगढ़ जिले के थे. संगीन धाराओं में बंद थे फरार सभी कैदी. दिल्ली रोड स्थित कोविड जेल से फरार हुए कैदी. 



रेवाड़ी की फिदेड़ी में बनाई गई कोविड जेल में से शनिवार रात को एक बैरक की ग्रिल को काटकर 13 बंदी फरार हो गए। सुबह बंदियों की गिनती होने लगी तो मामले की जानकारी मिली। घटना की सूचना मिलने के बाद एसपी अभिषेक जोरवाल खुद मौके पर पहुंचकर पूरी जानकारी जुटा रहे हैं। दरअसल रेवाड़ी जिला के गांव फिदेड़ी में नई जेल बनाई जा रही है। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए फिदेड़ी जेल को करीब सप्ताहभर पूर्व प्रदेश की कोविड जेल बना दिया गया था। इस जेल में प्रदेशभर की जेलों से शिफ्ट करके करीब 493 कोविड संक्रमित बंदियों को रखा गया है। शनिवार की रात को एक ही बैरक में बंद 76 में से 13 बंदी ग्रिल काटकर बाहर निकल आए तथा चादर की रस्सी बनाकर जेल की दीवार फांदकर फरार हो गए। फरार हुए सभी बंदी संगीन धाराओं के तहत बंद थे। सुबह बंदियों की गिनती करने के दौरान 13 बंदी फरार होने की जानकारी सामने आई। इसके बाद जेल प्रशासन में हड़कंप मच गया। सूत्रों से पता चला है कि रात के वक़्त जेल में ड्यूटी पर कोई जिम्मेदार अधिकारी नहीं था और जेल वॉर्डन और एसपीओ के भरोसे ही काम छोड़ रखा था. पुलिस की टीमें जिलाभर में फरार बंदियों की खोजबीन में जुटी हुई है। आसपास के गांवों में भी सर्च अभियान चलाया जा रहा है।
Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें