expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Rewari News : मॉडल संस्कृति वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों में 10 अपै्रल तक होंगे दाखिले, शैक्षणिक सुधार की दिशा में रहेगी मॉडल संस्कृति स्कूल की अहम भागीदारी : डीसी

रेवाड़ी, 7 अप्रैल। हरियाणा सरकार ने राजकीय स्कूल को शिक्षा का उत्कृष्टï केंद्र बनाने के लिए प्रत्येक खंड में मॉडल संस्कृति वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय इसी शिक्षा सत्र से शुरू हो रहे हैं। जिला के पांच वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों को सीबीएसई बोर्ड से मान्यता दिलवाकर एक अपै्रल से दाखिला प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। इन पांच स्कूल के विद्यार्थी बड़े शहरों के मॉडल स्कूल की तर्ज पर अंग्रेजी माध्यम से शिक्षा ग्रहण करेंगे। इन पांच स्कूल के अतिरिक्त जिला में 10 राजकीय प्राइमरी मॉडल स्कूल भी शुरू किए जा रहे हैं। इन स्कूलों में बैग फ्री व अंग्रेजी मीडियम में शिक्षा दी जाएगी।

डीसी यशेन्द्र सिंह ने कहा कि सरकार की इस सकारात्मक पहल का विद्यार्थियों द्वारा लाभ उठाते हुए शिक्षा के क्षेत्र में रेवाडी जिला का निरंतर अग्रणी बनाने में सहभागी बनना है।
डीसी ने बताया कि शिक्षा विभाग द्वारा जारी निर्देशों के अनुसार इन स्कूल में नाम मात्र की एक मुश्त दाखिला राशि व मासिक फीस ली जाएगी। यह राशि स्कूल की बेहतरी के लिए स्कूल प्रबंधन समिति द्वारा खर्च की जाएगी। संस्कृति स्कूल में एक लाख अस्सी हजार से कम वार्षिक आय वाले परिवारों के बच्चों के लिए 20 प्रतिशत तथा एक लाख अस्सी हजार से दो लाख चालीस हजार रूपए तक की वार्षिक आय वाले परिवारों के बच्चों के लिए दस प्रतिशत सीट आरक्षित करने का प्रावधान किया गया है ताकि कमजोर वर्ग के बच्चों को भी आधुनिक शिक्षा प्राप्त हो सके। 134 ए, एससी, बीसी ए, बीसी बी तथा सीडब्लयूएसएन केटेगरी (दिव्यांग, अनाथ आदि)को नियमानुसार दाखिल मेंं आरक्षण का प्रावधान किया गया है।  
इन स्कूलों मेंं दाखिला प्रक्रिया शुरू
  जिला शिक्षा अधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि रेवाडी जिला में पांच  राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय को मॉडल संस्कृति विद्यालय का दर्जा दिया गया है।  इन विद्यालयों में इसी सत्र से अंग्रेज़ी माध्यम से शिक्षा प्रदान करनी शुरू हो की जा रही है। इन विद्यालयों को सीबीएसई बोर्ड से मान्यता मिल चुकी है। उन्होंने बताया कि राजकीय वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालय गढी बोलनी, पिथडावास, गुडियानी, बोडिया कमालपुर के स्कूलों को मॉडल संस्कति विद्यालय बनाया गया है वहीं इसके अतिरिक्त ततारपुर इस्तमुरार में पहले से ही मॉडल संस्कृति स्कूल चल रहा है। उन्होंने बताया कि मॉडल संस्कति प्राईमरी स्कूलों में जीजीपीएस बावल, जीपीएस बावल सराय, जीपीएस धारूहेडा, जीपीएस धारूहेडा हुडा सैक्टर-6, जीपीएस घीसा की ढाणी, हरीनगर, कुतुबपुर, जीपीएस नंबर-1बी रेवाडी, जीपीएस मडहट्स, जीपीएस शिव कॉलोनी रेवाडी शामिल है।
संस्कृति मॉडल स्कूल के जिला नोडल अधिकारी विरेन्द्र नारा ने बताया कि इन स्कूल का स्टॉफ भी अलग कैडर का है। प्रथम कक्षा से ही अंग्रेजी व हिंदी मीडियम की पढ़ाई की व्यवस्था है। कक्षा एक से नौवीं तक एक सेक्शन अंग्रेजी माध्यम का होगा। पहली से पंाचवी तक 30 विद्यार्थी एक सेक्शन में होंगे। छठी से आठवींं कक्षा तक 35 तथा नौवीं से ग्यारहवीं कक्षा तक अधिकतम 45 विद्यार्थी एक कक्षा में होंगे। दाखिले के लिए मौजूदा स्कूल के 50 प्रतिशत तथा बाहर के स्कूल के 50 प्रतिशत विद्यार्थियों को दाखिला देने का प्रावधान किया गया है।
दाखिले के लिए आवश्यक दस्तावेज
  नोडल अधिकारी ने बताया कि आवेदन के लिए जन्म प्रमाण पत्र, रिहायशी प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, परिवार पहचान पत्र की आवश्यकता है और आवेदन फार्म स्कूल में निशुल्क मिलेगा। दस्तावेज के अभाव में दाखिले के लिए मना नहीं किया जाएगा। अभिभावक को दस्तावेज पूरे करने के लिए 30 दिन का समय दिया जाएगा। नोडल अधिकारी ने कहा कि आरक्षित सीटें खाली रहने पर सामान्य श्रेणी से सीट को भरा जाएगा। प्रथम कक्षा में दाखिले के लिए आयु सीमा पांच वर्ष कम से कम निर्धारित की गई है यानि प्रथम कक्षा में आवेदन के लिए आवेदक का जन्म 31 मार्च 2016 से पूर्व होना चाहिए।
Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें