expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Pakur News: न्यायालय के आदेश से 19 ऊंटो राजस्थान भेजने की तैयारी पूरी


ग्राम समाचार, पाकुड़। न्यायालय के आदेश पर ऊंटो को राजस्थान भेजने  तैयारी  पूरी हो चुकी है। संभवत बुधवार देर शाम   सिरोही राजस्थान के लिए पदाधिकारी एवं सशस्त्र बल के निगरानी में राजस्थान के लिए रवाना हो जाएंगे ।पिछले दिनों वन चेक पोस्ट पर दो अलग-अलग तिथियों एवं समय पर कुछ तस्करों द्वारा कई राज्यों को पार करते हुए पाकुड़ के रास्ते बिना कागजात के  उंटो को पाकुड़ के रास्ते बाहर भेजा जा रहा था  जिसे येन मौके पर वन क्षेत्र पदाधिकारी अनिल कुमार सिंह ने पकड़ कर नगर थाने में कांड संख्या  10/ 2021   एवं 16/ 2021 पशु क्रूरता अधिनियम के तहत मामला दर्ज कराई थी। संदर्भ में दो तस्करों को भी गिरफ्तार किया गया था । इनमें से कई ऊंटो  मौत हो चुका है ।शेष बचे  उंटो को  न्यायालय के आदेश से राजस्थान  सिरोही भेजने की तैयारी प्रारंभ कर दी गई है । पूरी संभावना है कि बुधवार की देर शाम तक ऊंटों को न्यायालय के आदेश से अपने  गंतव्य स्थान भेज दिया जाएगा। इस संबंध में  माननीय न्यायालय के आदेश से अनुमंडल पदाधिकारी पाकुर ने अपने ज्ञापन 149  13/3/2021 द्वारा वन क्षेत्र पदाधिकारी अनिल कुमार सिंह  को सशस्त्र बल के साथ दंडाधिकारी प्रतिनियुक्त करते हुए डॉक्टर दिनेश कुमार  सिंह, वेटरनरी टेक्निकल हेमंत कुमार सिंह ,धनबाद के  गौ ज्ञान संस्था के संस्थापक  राणा घोष एवं वन विभाग के 5 श्रमिक सहित दो फोर व्हीलर एवं 16 चकिया ट्रक से ऊंटो को सिरोही राजस्थान भेजने का आदेश प्राप्त हुआ था ।जिसके आलोक में उक्त सभी  सबंधी त लोगों को पीपुल्स फॉर एनीमल संस्था सिरोही राजस्थान के सचिव अमित कुमार सिंह को जप्त ऊंटो को  सुपुत्र किया। इसके लिए झारखंड गोवंश  वंशीय /ऊंट पशु हत्या प्रति सेध अधिनियम 2005 की धारा 4 घ  के अधीन शक्तियों का प्रयोग करते हुए  स्पष्ट कहा गया है उक्त आदेश के आलोक में प्रतिनियुक्त सभी संबंधित को निर्देश है कि कुल 19 जीवित उंटो को पाकुर झारखंड से सिरोही राजस्थान ले जाने हेतु वाहन प्राप्त कर आवश्यक सभी करवाई पूरा करेंगे।जिससे कि ऊंट अपने परिसीमा और वातावरण में रह सके।


Share on Google Plus

Editor - रंजीत भगत, पाकुड़

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें