expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Godda News: राज्य में गोड्डा जिला कुपोषण उपचार में दूसरे स्थान पर




ग्राम समाचार गोड्डा, ब्यूरो रिपोर्ट:-  झारखंड राज्य अंतर्गत एनएचएम द्वारा किए गए तृतीय त्रैमासिक समीक्षा (अक्टूबर से दिसंबर 2020) में गोड्डा जिला ने 79 प्रतिशत वेड अधिभोग तथा 75 प्रतिशत रिकवरी रेट के साथ राज्य भर में दूसरा स्थान प्राप्त किया है। गोड्डा जिले में कुपोषण को मिटाने के उद्देश्य से पांच कुपोषण उपचार केंद्र संचालित किए जा रहे हैं। इसमें से महगामा स्थित कुपोषण उपचार केंद्र ने 97 प्रतिशत, पोड़ैयाहाट स्थित कुपोषण उपचार केंद्र ने 111 प्रतिशत, पथरगामा स्थित कुपोषण उपचार केंद्र ने 90 प्रतिशत, बोआरीजोर स्थित कुपोषण उपचार केंद्र ने 67 प्रतिशत, सुंदरपहाड़ी स्थित कुपोषण उपचार केंद्र ने 52 प्रतिशत का योगदान दिया है। प्रत्येक त्रैमासिक माह में कुपोषण उपचार केंद्र की प्रगति प्रतिवेदन का राज्य भर में समीक्षा किया जाता है। सुंदरपहाड़ी स्थित कुपोषण उपचार केंद्र के प्रभारी डॉ0 अनिल सोरेन, पोड़ैयाहाट स्थित कुपोषण उपचार केंद्र के प्रभारी डॉ0 पूनम, पथरगामा स्थित कुपोषण उपचार केंद्र के प्रभारी डॉ0 आर के पासवान, महागामा स्थित कुपोषण उपचार केंद्र के प्रभारी डॉ0 निर्मला बेसरा, बोआरीजोर स्थित कुपोषण उपचार केंद्र के प्रभारी डॉ0 खालिद अहमद द्वारा जानकारी देते हुए बताया गया कि उपायुक्त भोर सिंह यादव के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग कुपोषण के विरुद्ध लगातार मुहिम संचालित कर रहा है। नियमित रूप से कुपोषित बच्चों का वेटिंग लिस्ट बनाते हुए उनका उपचार किया जा रहा है और आने वाले समय में जिले में चिन्हित कुपोषित बच्चों की संख्या में भी कमी देखने को मिलेगी।



Share on Google Plus

Editor - भुपेन्द्र कुमार चौबे

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें