expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Pathargama News: मजाक बनकर रह गया है पत्थर गामा में विद्युत आपूर्ति



 ग्राम समाचार, पथरगामाः- विद्युत विभाग की नादिर शाही के चलते गत सप्ताह भर से विद्युत कनेक्शन धारियों को 8 घंटे भी निर्बाध बिजली आपूर्ति नहीं मिल रही है।10 से 15 मिनट के अंतराल पर बिजली की आंख मिचोली लगी रहती है।बिजली की आंख मिचोली का सीधा असर विद्युत जनित उद्योग धंधे पर तो पड़ ही रहा है। साथ ही जलापूर्ति पर भी असर पड़ गया है।लोगों का पानी टंकी भर ही नहीं पा रहा है।पथरगामा पावर सब स्टेशन से पूछे जाने पर तरह-तरह के बयानबाजी दी जा रही हैैै।कभी पावर कम मिलने की बात कही जाती है तो कभी राजाभिठा के लिए चैतन्या कंपनी के द्वारा 33 हजार केवी का लाइन खींचे जाने की बात कही जाती है।विभागीय कनीय अभियंता मसूदन माजी पावर कम मिलने की बात कर पल्ला झाड़ रहे हैं।परंतु लोगों के गले में यह बात नहीं उतर रही है ऐसे में यह सवाल उठना लाज़मी है कि लकड़ा पहाड़ी में पावर ग्रिड बनने के बाद भी पथरगामा को 4 मेगावाट बिजली ही मिल पा रही है और पूर्व में धन कुंडा ग्रिड के समय भी विद्युत आपूर्ति के यही हालात थे। बावजूद पहले सब कुछ ठीक-ठाक था पर अब ऐसा क्यों होने लगा है।रही राजाभिठा ट्रांसमिशन लाइन बिछाने की बात तो क्या महज 10 से 15 मिनट के अंदर एक पोल को कोई खड़ा कर सकता है? अथवा 10 से 15 मिनट के अंतराल पर विद्युत तार को खींचा जा सकता है? विद्युत उपभोक्ताओं में विद्युत आपूर्ति नियमित करने की मांग की है और ऐसा नहीं किए जाने पर सड़क पर उतरने की बात भी कही है।

  -ःअमन राज, पथरगामाः-

Share on Google Plus

Editor - भुपेन्द्र कुमार चौबे

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें