expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Chandan News: मजदूर पिता बेटी की शादी के लिए गया परदेस, घर आयी पिता की अर्थी

 ग्राम समाचार,चांदन, बांका। जानकारी के अनुसार एक दिल दहला देने वाली खबर आनंदपुर ओपी अंतर्गत चिन्गुलिया निवासी मजदूर विनोद पासवान उम्र लगभग 50 वर्ष अपनी गरीबी से तंग आकर तथा बेटी की शादी के खर्च के लिए पहली बार 6 जनवरी 2021 को मेदिनीपुर जिला अंतर्गत खड़कपुर अपने दोस्तों के साथ काम करने गया था। और वहां एक निजी कंपनी में काम मिल गया। लेकिन ऊपर वाले को कुछ और ही मंजूर थी जिससे बाथरूम जाने के क्रम पैर फिसल जाने से मौके पर ही मौत हो गई। 



साथ ले गए दोस्तों के द्वारा मेडिकल कराते हुए मृतक का शव वापस बंगाल एंबुलेंस द्वारा गांव लाया। जिसे देखते ही बेटी गुंजा कुमारी 14 वर्ष रूबी कुमारी 12 वर्ष पुत्र सोनू कुमार आठ वर्ष, पत्नी पुर्नीदेवी के साथ परिजन ने चित्कार करते हुए शब के पास विलाप करते हुए पत्नी कहने लगी कि, तो हमारा बेसहारा करी छोरी चली गइले अबे हमें केकरो भरोसा में जियवो, के हमर बेटीया बियाहतो रे राजा। इधर मृतक के परिजन बेटी बेटा बहन भाई के साथ पिता रो-रो कर बुरा हाल है। पूछे जाने पर पिता जालधर पासवान ने बताया कि या मेरा बेटा घर का कमाओ एवं सहनशील व्यक्ति के साथ मिलनसार भी था जो आज हमारी इस दुनिया में नहीं रहा मुझे मरने के बाद कंधा आप कौन लगाएगा। 



पत्नी पुर्नीदेवी इस घटना से आहत होते हुए बार-बार शब से लिपटकर बेहोश हो रही है। जब मृतक का शव एंबुलेंस द्वारा गांव लाया गया तो ग्रामीणों का हुजूम देखा गया। मौके पर उपस्थित दक्षिणी बारने पंचायत के मुखिया सुरेश प्रसाद यादव ने परिजनों को सांत्वना देते हुए ₹1000 अंतिम संस्कार के लिए दीया तथा अंत्येष्टि योजना के द्वारा ₹3000 नगद राशि देने की बात कही। तथा परिजनों के द्वारा आज अंतिम संस्कार कर दिया गया इस मौके पर सैकड़ों ग्रामीणों के साथ-साथ सरपंच आशीष रोबिन उड उपस्थित थे जो इस मजदूर की पार्थिव शरीर देखकर सभी की आंखों में आंसू झलक रहे थे।

उमाकांत साह, ग्राम समाचार संवाददाता, चांदन।

Share on Google Plus

Editor - सुनील कुमार

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें