expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Bounsi News: एएनएम ने मारी प्रसूता के पेट में मुक्का, प्रसूता भागलपुर रेफर, हुई मौत, नहीं हुई अब तक कोई कार्यवाही

 ग्राम समाचार, बौंसी, बांका। प्रखंड स्थित रेफरल अस्पताल में प्रसव कराने आई एक प्रसूता की मौत का मामला सामने आया था। इस मामले में सोमवार को पीड़िता के रिश्तेदार पवन कुमार के द्वारा जिला चिकित्सा पदाधिकारी को आवेदन भी दिया गया था। इसी मामले की जांच करने सिविल सर्जन सुधीर कुमार महतो बौंसी रेफरल अस्पताल पहुंचे 

अस्पताल पहुंचते ही उन्होंने पीड़िता के रिश्तेदार एवं आरोपी स्वास्थ्य कर्मी को बुलाया और दोनों पक्ष से पूछताछ की। पूछताछ के दरमियान दोनों पक्ष ने अपनी अपनी बात रखी। सारी बातें सुनने के बाद सिविल सर्जन ने आश्वासन देते हुए कहा कि दोषी पर कार्यवाही की जाएगी। वही दूसरी ओर जब पवन कुमार पीड़िता के रिश्तेदार से बात की गई तो, सारी घटना को बताते हुए उन्होंने कहा कि, सुबह में सोमवार को जब प्रसूता को अस्पताल लाया गया तो, चिट्ठा कटवाने वक्त ₹10 की मांग की गई। विरोध करने पर कहा गया कि, आपका रोगी यहां भर्ती नहीं होगा। ₹10 देकर चिट्ठा कटवाया गया। प्रसूता की भर्ती होने के बाद 10 से 15 मिनट में नार्मल डिलीवरी हो गई। डिलीवरी होने के बाद मौके पर उपस्थित ए एन एम सरोज भारती एवं जयमाला कुमारी ने मिठाई खाने के नाम पर 500 की मांग की। पैसा नहीं देने पर एएनएम ने प्रसूता के पेट में मुक्का मार दिया। पेट में प्रहार के कारण ब्लडिंग शुरू हो गई। इस घटना की 

जानकारी डॉक्टर को देने पर भी देखने तक नहीं आए। ऐसी स्थिति हो गई कि प्रसूता को भागलपुर रेफर कर दिया गया। एंबुलेंस कर्मी को जब बोला गया भागलपुर जाने के लिए तो, उनके द्वारा स्नान करने एवं पूजा करने की बाद भागलपुर जाने की बात कही गई। इस लापरवाही के कारण भागलपुर ले जाने के क्रम में ही रास्ते में प्रसूता की मृत्यु हो गई थी। 

इसी मामले में मंगलवार को अस्पताल बुलाया गया और पूछताछ की गई। पूछताछ के बाद सिविल सर्जन ने आश्वासन दिया कि दोषी स्वस्थ कर्मियों पर कार्रवाई होगी। वहीं घटना की जांच करने आए हुए सिविल सर्जन ने स्वास्थ्य कर्मियों से स्पष्टीकरण मांगा है। मौके पर सिविल सर्जन से बात की गई तो, उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य कर्मी तो दोषी है ही। जांच में सारी बातें स्पष्ट हो गई है। कार्यवाही तो होगी। साथ ही उन्होंने कहा कि लापरवाही हुई है। मरीज को टाइमली अटेंड नहीं करना। यह भी लापरवाही है। दोषी स्वास्थ्य कर्मी पर कार्रवाई होगी। वहीं जब उन्हें बताया गया कि, इमरजेंसी में एएनएम ज्यादातर अनुपस्थित रखती है तो, इस खबर को संज्ञान में लेते हुए उन्होंने कहा कि एक-दो पर जब कार्यवाही होगी तो, सभी कर्मी सुधर जाएंगे। साथ ही अस्पताल में ब्लड स्टोरेज में ब्लड की कमी की बात पर उन्होंने कहा कि, ब्लड स्टोरेज में ब्लड जल्द ही आ जाएगा। वहीं दूसरी ओर सफाई कर्मियों को 17 महीने से वेतन नहीं मिला है। इस पर अभी तक कोई कार्यवाही नहीं की गई है। 

कुमार चंदन, ग्राम समाचार संवाददाता, बौंसी।

Share on Google Plus

Editor - कुमार चन्दन, बाँका (बिहार)

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें