expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Rewari News : धुंध व कोहरे के मौसम में आमजन बरते सावधानी, सडक़ सुरक्षा के प्रति सजगता बरतें वाहन चालक

रेवाड़ी, 14 दिसम्बर। उपायुक्त यशेन्द्र सिंह ने सर्दी के मौसम में सुबह व शाम को कोहरे के दृष्टिगत सडक़ सुरक्षा बनाये रखते हुए सावधानी रखने का आह्वान किया है। डीसी यशेन्द्र सिंह ने आमजन को वाहन का उपयोग करते हुए सावधानी रखने का आह्वान किया है। डीसी ने कहा कि धुंध के मौसम में विजिब्लिटी कम हो जाती है जिससे हादसे होने का अंदेशा बना रहता है। इन सबके दृष्टिगत प्रशासन की ओर से सडक़ों पर सफेद पट्टी लगाई गई है। साथ ही सडक़ों पर जितने भी गड्ढे हैं, उन्हें भी दुरूस्त किया जा रहा है। उन्होंने आमजन को धुंध के मौसम में विशेष सावधानी बरतने बारे एडवाईजरी देते हुए कहा कि इस दौरान ड्राइविंग से पहले मौसम के पूर्वानुमान की निगरानी करने के बाद ही गंतव्य के लिए प्रस्थान करें। उन्होंने कहा कि धुंध में एहतियाती उपायों से आप स्वयं ही नहीं बल्कि दूसरे को भी सुरक्षित रखेंगे। उन्होने कहा कि जितना अधिक लोग ट्रैफिक नियमों का पालन करते हुए सावधानी से वाहन चलाएंगे, उतना ही सफर सुरक्षित होगा। उन्होंने कहा कि वाहन चालकों को आगे जाने वाले वाहनों से सुरक्षित दूरी बनाए रखनी चाहिए और फॉग लाइट्स व इंडीकेटर्स को लगातार ऑन रखना चाहिए। इसके साथ-साथ लो-बीम पर हेड-लाइट्स के साथ ड्राइव करे, क्योंकि हाई-बीम धुंध व कोहरे में बैक रिफ्लेक्ट कर विजिब्लिटी को बाधित करती है। धुंध के दौरान लेन बदलने व टैफिक क्रॉस करने से बचे। उन्होंने कहा कि विजिब्लिटी बेहद खराब होने की स्थिति में वाहन चालक सडक़ पर पेंट की गई लाइन को गाइड के रूप में उपयोग करते हुए वाहन चलाएं।

उपायुक्त ने वाहन चालकोंं से अपील की है कि वे वाहनों की गति सीमा नियंत्रित रखे व मोबाइल फोन तथा म्यूजिक सिस्टम का उपयोग करने से बचे। उन्होंने कहा की लोगों को अपने वाहनों को मुख्य सडक़ पर पार्क नहीं करना चाहिए। इसके विपरीत वाहनों के इंडीकेटर्स को ऑन कर ले-बाई या मेन रोड़ से दूर वाहनों को पार्क करें। वाहन मालिक यह भी सुनिश्चित करें कि वाहनों की हेड लाइट, टेल लाइट, फॉग लाइट सहित इंडिकेटर, ब्रेक, टायर, विंडस्क्रीन वाइपर, बैटरी व कार हीटिंग सिस्टम सही तरीके से काम कर रहे हैं। उन्होने कहा कि बाहर की आवाज का ध्यान रखने के लिए वाहनों के शीशे थोड़ा नीचे रखें ताकि जो दिखाई न दे सके उसे सुनकर यात्रा को पूर्ण रूप से सुरक्षित बनाया जा सके। एमरजेंसी स्टॉप होने पर, जहां तक संभव हो सडक़ से नीचे वाहन को उतारे, ओवरटेकिंग न करें और लेन बदलने, फ्री-वे और व्यस्त सडक़ों पर वाहन रोकने से भी बचे। इन नियमों की पालना करके हम अपनी व आमजन की जानमाल की सुरक्षा कर सकते है।
Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें