expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Pakur News: लिट्टीपाड़ा कॉंग्रेस कमिटी ने डाक बांग्ला परिसर मे केंद्र सरकार द्वारा लाये गये तीन नए कृषि कानून के विरोध मे धरना प्रदर्शन किया.


ग्राम समाचार, पाकुड़। लिट्टीपाड़ा कॉंग्रेस कमिटी के प्रखंड अध्यक्ष मुर्शिद आलम के नेतृत्व मे लिट्टीपाड़ा डाक बांग्ला परिसर मे शनिवार को केंद्र सरकार द्वारा लाये गये तीन नये क़ृषि कानून के विरोध मे कॉंग्रेस पार्टी धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान लिट्टीपाड़ा विधानसभा प्रभारी सह पर्यवेक्षक कांग्रेस नेता जय मालतो ने कहा किसान के विरोध मे  तीन नये काला कानून केंद्र सरकार ने बनाई है  पहला कृषक उपज प्यापार और वाणिज्य 2020" दूसरा कृषि क़ीमत आश्वासन और सेवा करार विधेयक 2020" तीसरा आवश्यक वस्तु संशोधन विधेयक 2020 यह मुद्दा देश के किसानो का है, हिंदुस्तान भर के किसान आज सड़कों पर आकर आंदोलन कर रहे है इसलिए की संसद मे बहुमत के आधर पर बिना किसी से चर्चा किए केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा किसान विरोधी तीन नये कृषि कानून बनाये गये है  यदि कानून बनाते समय भाजपा सरकार राज्य सरकारों, किसानों संगठनो आदि से चर्चा करके ये कानून बनाती तो आज यह हालत उतपन्न नहीं होती  मालतो ने आगे कहा की कोरोना की मार झेल रहा है ऐसे मे सरकार द्वारा इस प्रकार के किसान विरोधी कानून लाया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है, उन्होंने कहा की तीन कानून से धीरे धीरे व्यापार मंडी के बाहर फेलेगा, थोड़े समय मे मंडीया समाप्त हो जाएगी और किसान धीरे धीरे पूँजीपतियों को अपनी उपज बेचने मे  मजबूर हो जाएगा इस दौरान वरिष्ठ कार्यकर्त्ता जैनुल आवेदिन अंसारी, ओबीसी विभाग प्रखंड अध्यक्ष तमीजद्दिन अंसारी, इलाची मुर्मू,समसून मालतो, बालको मुर्मू, राजीव मालतो, मोतीलाल मरांडी, रहीम अंसारी, मिडिया प्रभारी शब्बीर आलम, हैदर आलम, विनय मालतो सहित कांग्रेस के दर्जनों लोग मौजूद थे.


ग्राम समाचार, लिट्टीपाड़ा प्रशांत मंडल की रिपोर्ट


Share on Google Plus

Editor - रंजीत भगत, पाकुड़

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें