expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Bhagalpur news:एनटीपीसी कहलगांव में 3 मेगावाट सोलर प्लांट शुरू, 6.37 मिलियन यूनिट बिजली पैदा करेगा प्रति वर्ष



ग्राम समाचार, भागलपुर। स्वच्छ और हरित ऊर्जा की ओर बढ़ने के महत्व को देखते हुए, एनटीपीसी अक्षय ऊर्जा (आरई) स्रोतों की महत्वपूर्ण क्षमताओं को जोड़कर अपने ऊर्जा पोर्टफोलियो को बढ़ाने के लिए कई कदम उठा रहा है। वर्ष 2032 तक एनटीपीसी की आरई स्रोतों के माध्यम से न्यूनतम 32000 मेगावाट क्षमता रखने की योजना है, जिसकी कुल बिजली उत्पादन क्षमता का लगभग 25% है। अपने उद्देश्यों को साकार करते हुए एनटीपीसी  कहलगांव ने 3 मेगावाट क्षमता का सोलर प्लांट को सफलतापूर्वक कमीशन किया। यह प्लांट वर्त्तमान में कहलगांव थर्मल  प्लांट परिसर मे स्थित है। सोलर प्लांट मे 12800 सौर पैनलों लगाए गए हैं जो की थर्मल प्लांट की 16 एकड़ भूमि मे फैले हुए है। सौर संयंत्र का उद्घाटन चंदन चक्रवर्ती, कार्यकारी निदेशक कहलगांव ने किया। उद्घाटन समारोह मैं वी सुदर्शन बाबू कार्यकारी निदेशक, अरिंदम सिन्हा महाप्रबंधक (ओ & एम), विपुल चक्रवर्ती महाप्रबंधक मेंटेनेंस,  जी.एस.राव, महाप्रबंधक (प्रचालन), एस.के.साहा, महाप्रबंधक (ईंधन प्रबंधन), चिनमोय सरकार, महाप्रबंधक सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी, यूनियनों और एसोसिएशन के प्रतिनिधि और एनटीपीसी कहलगांव के कर्मचारी भी उपस्थित थे। सौर संयंत्र चालू होने से एनटीपीसी  कहलगांव पूर्वी क्षेत्र  का एकमात्र स्टेशन बन गया, जिसमें कोयला ऊर्जा उत्पादन के साथ साथ सौर संयंत्र भी लगाया गया है। 3 मेगावाट का सोलर प्लांट प्रति वर्ष 6.37 मिलियन यूनिट बिजली पैदा करेगा। सोलर प्लांट एनटीपीसी कहलगांव के कार्बन फुटप्रिंट को कम करने में भी मदद करेगा। 3 मेगावाट सोलर प्लांट के चालू होने के कारण कार्बन फुटप्रिंट में कमी प्रति वर्ष 6400 मीट्रिक टन CO2 उत्सर्जन के बराबर है, जो 25 वर्षों में 160000 मीट्रिक टन CO2 उत्सर्जन के बराबर है।

Share on Google Plus

Editor - Bijay shankar

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें