expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Rewari News : रेजांगला दिवस पर डीसी ने शहीदों को श्रद्धांजली दी, डीसी बोले-शहीद राष्ट्र की अनमोल धरोहर

रेवाडी, 18 नवंबर। उपायुक्त एवं जिला सैनिक बोर्ड के अध्यक्ष यशेन्द्र सिंह ने आज रेजांगला दिवस के अवसर पर रेजांगला शहीद स्मारक व युद्घ स्मारक पर पुष्प चक्र अर्पित कर शहीदों को नमन किया। इस अवसर पर उपमंडल अधिकारी ना. रेवाड़ी रविन्द्र यादव, जिला सैनिक बोर्ड सचिव सेवानिवृत कर्नल सरिता यादव, नगर परिषद कार्यकारी अधिकारी अभय सिंह सहित अन्य गणमान्य लोगों ने भी पुष्प अर्पित कर श्रद्घाजंलि दी। इस मौके पर शहीदो की याद में दो मिनट का मौन भी रखा गया।



डीसी यशेन्द्र सिंह ने शहीदों को नमन करते हुए इस अवसर पर कहा कि शहीद किसी जाति विशेष के नहीं बल्कि सभी के लिए प्रेरणा स्त्रोत होते है। युवा पीढ़ी को इनकी कुर्बानियों व बलिदानों से प्रेरणा लेते हुए देश सेवा के लिए आगे आना चाहिए। रेजांगला शौर्य गाथा पर प्रकाश डालते हुए उपायुक्त यशेन्द्र सिंह ने कहा कि लद्दाख की दुर्गम बर्फीली चोटी पर अहीरवाल के वीरों द्वारा लिखी गई शहादत की गाथा आज भी युवाओं के जहन में देशभक्ति की भावना जागृत कर रही है। उन्होंने कहा कि रेजांगला की लडाई का किस्सा हर भारतीय को सुनना चाहिए ताकि हर भारतीय देश सेवा के प्रति हमेशा तैयार रहें। उन्होंने कहा कि रेंजागला में सैनिकों ने मरते दम तक अपना धैर्य नहीं खोया ऐसे महान योद्घाओ पर हमें गर्व है। उन्होंने कहा कि चीनी आक्रमण के समय लद्दाख की बर्फीली चोटी पर स्थित रेजांगला पोस्ट पर हुए युद्ध की गौरवगाथा विश्व के युद्ध इतिहास में अद्धितीय है। यशेन्द्र सिंह ने कहा कि देश के वीर शहीदों की बदौलत ही आज हम आजादी की खुली हवा में सुख की सांस ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि हम देश के वीर शहीदों के सदा कर्जवान व आभारी रहेंगे। उपायुक्त ने बताया कि प्रतिकूल परिस्थितियों में समुद्री तट से 18 हजार फुट से अधिक ऊंची दुर्गम बर्फीली चोटी पर रेजांगला पोस्ट पर 13 कुमाऊ की चार्ली कम्पनी के वीर अहीर रणबांकुरों ने जो पराक्रम दिखाकर अपना सर्वोच्च बलिदान दिया उसकी याद ताजा कर आज भी चीनी सेना की रूह कांप जाती है। उन्होंने कहा कि 18 नवंबर 1962 को इस माह समर में 124 जवानों की इस टुकड़ी ने एक हजार से ज्यादा चीनियों को ढ़ेर कर दिया था। उन्होंने कहा कि इस लडाई में हमारे भी 100 से ज्यादा जवानों ने अपनी शहादत दी। बाक्स:- इसके उपरांत डीसी ने रेजांगला पार्क में स्थित वार म्यूजियम का निरीक्षण किया। इस अवसर पर उन्होंने जिला सैनिक बोर्ड की सचिव को निर्देश दिए कि रेजांगला पार्क में स्थित वार म्यूजियम को आमजन के लिए हर रविवार को खोला जाएं ताकि युवा पीढ़ी हमारे वीर शहीदों के जीवन चरित्र से प्रेरणा लेकर आगे बढ़े।
Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें