expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

GoddaNews: उपायुक्त ने सांसद/विधायक मद, अनाबद्ध निधि, पर्यटन विकास योजना की समीक्षा विडियो कांफ्रेस से की



ग्राम समाचार गोड्डा, ब्यूरो रिपोर्ट:-    आज दिनांक 09.10.2020 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिला पर्यटन संवर्धन समिति एवं सांसद मद/ विधायक मद/अनाबद्ध निधि मुख्यमंत्री विकास योजना/ पर्यटन विकास शाखा द्वारा संचालित योजनाओं की समीक्षा बैठक उपायुक्त गोड्डा भोर सिंह यादव, उप विकास आयुक्त अंजलि यादव, अनुमंडल पदाधिकारी ऋतुराज, प्रखंड विकास पदाधिकारी पोड़ैयाहाट ,गोड्डा, पथरगामा, बसंतराय सुंदर पहाड़ी ,बोआरीजोर,पथरगामा ,मेहरमा पेयजल एवं स्वच्छता प्रमंडल के कार्यपालक पदाधिकारी श्री अरुण कुमार सिंह एवं अन्य पदाधिकारियों की गरिमामयी उपस्थिति में संपन्न हुई।

बैठक में उपायुक्त के द्वारा पर्यटन एवं अन्य योजनाओं से जुड़े विभागवार समीक्षा की गई। उपायुक्त के द्वारा बताया गया कि जिले में पेंडिंग पड़े योजनाओं का कार्य यथाशीघ्र संपन्न कराई जाए।

वित्तीय वर्ष 2014-15, 2015-16, 2016-17, 2017-18, 2018-19 एवं 2019-20 में कार्यपालक अभियंता NREP गोड्डा द्वारा क्रियान्वित योजनाओं की समीक्षा के क्रम में महागामा विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत कुल 612 योजनाओं में से 389 योजनाएं पूर्ण तथा 199 योजनाएं अपूर्ण पाया गया तथा समर्पित डी0सी0 विपत्र की समीक्षा की गई। उपायुक्त द्वारा  कार्यकारी एजेंसी के साथ योजनाओं एवं डी0सी0 विपत्र की जांच कराने का निदेश दिया गया।

कार्यकारी एजेंसी कार्यपालक अभियंता लघु सिंचाई प्रमंडल गोड्डा द्वारा क्रियान्वित योजनाओं की समीक्षा के क्रम पेंडिंग पड़े योजनाओं को यथाशीघ्र संपन्न करने की लिए निदेशित किए गए।

सहायक अभियंता लघु सिंचाई प्रमंडल गोड्डा द्वारा सांसद मद की योजनाओं की समीक्षा के क्रम में बताया गया कि 15वीं लोकसभा की राशि से तीन योजना स्वीकृत हुआ था, उसका उपयोगिता प्रमाण पत्र भेज दिया गया था तथा 16वीं लोकसभा की अवशेष राशि से 16 वीं लोकसभा में 3 योजना का स्वीकृति मिला था। ग्राम बैसाढ़ी में हरना नदी चेक डैम से पुराना पुल तक पक्की सिंचाई नाला का निर्माण हेतु 47.69 लाख रुपए का प्रशासनिक स्वीकृति देते हुए 8.00 लाख रुपए उपलब्ध कराया गया था। शेष राशि की मांग हेतु पत्राचार किया गया। इसपर उपायुक्त द्वारा कार्यालय से योजना का मिलान करने का निदेश दिया गया।

लघु सिंचाई प्रमंडल गोड्डा द्वारा क्रियान्वित योजनाओं की समीक्षा के क्रम में उप विकास आयुक्त द्वारा डी0सी0 विपत्र से संबंधित जानकारी मांगी गई। उक्त के आलोक में कार्यपालक अभियंता द्वारा बताया गया कि सांसद मद अंतर्गत क्रियान्वयन योजनाओं का डी0सी0 विपत्र नही दिया जाता है। सांसद मद संबंधित योजनाओं में उपयोगिता प्रमाण पत्र दिया जाता है तथा वर्ष 2015 तक का उपयोगिता प्रमाण पत्र पहले ही विभाग को भेजा जा चुका है ।उपायुक्त के द्वारा वर्ष 2016 में व्यय की गई राशि का उपयोगिता प्रमाण पत्र उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया। सभी कार्यकारी एजेंसियों को geo tag photo एवं M.B की अभिप्रमाणित छायाप्रति के साथ पूर्ण की गई योजनाओं के अवशेष राशि की अधियाचना पत्र समर्पित करने का निर्देश दिया गया।कार्यपालक अभियंता भवन निर्माण गोड्डा को निर्देश दिए गए कि जिले में जितने भी सरकारी भवन की स्थिति जर्जर है उन्हें यथाशीघ्र ठीक किया जाए साथ ही साथ उन्हें सख्त निर्देश दिए गए कि जिले में भवन निर्माण के द्वारा जितने भी नए भवन का निर्माण किए जा रहे हैं उनका गुणवत्तापूर्ण होना अति आवश्यक है।




Share on Google Plus

Editor - भुपेन्द्र कुमार चौबे

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें