expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Dumka News: रिमोट सेंसर कंट्रोल से संचालित होगा मसानजोर डेम, निर्माण शुरू

ग्राम समाचार, दुमका। मसानजोड़ डैम के फूल बागान परिसर में अस्सी लाख के लागत पर रिमोट सेंटर सिस्टम चालू करने के लिये भबन का निर्माण शुरू कराया गया हैं ।पश्चिम बंगाल राज्य सरकार के सिंचाई विभाग के द्बारा यहां 19 करोड़ के लागत पर सिस्टम चालू कराया जायेगा ।प्रथम पंच बर्षीय योजना के तहत यहां सिंचाई एबं पन बिजली सेबा चालू कराने के लिये मयूराक्षी नदी के उपर 16 करोड़ के लागत पर कनाडा सरकार के आर्थिक मदद से पचास के दशक में डैम का निर्माण कराया गया हैं ।दुमका जिला के अंतिम छोर में मयूराक्षी नदी के मसानजोड़ में निर्मित इस डैम से सिंचाई एबं पन बिजली का नब्बे फीसद लाभ पश्चिम बंगाल के किसानों को मिलता हैं ।डैम से बिगत तीन दशक से यहां के लोगो को बिजली आपूर्ति बंद कर दिया गया हैं।दुमका प्रखंड के रानिबहाल एबं रानीश्वर प्रखंड के आठ पंचायत के किसानों को पटवन उपलब्ध होती हैं ।यहां बड़ी लागत से रिमोट सिस्टम सेंटर चालू कराने को लेकर डैम प्रबंधन के एस डी ओ श्यामा प्रसाद राय से पूछे जाने पर बताया हैं कि डैम के गेटों को मैनुएल खोला एबं बंद किया जाता हैं ।सिस्टम चालू होने पर गेटो का खोलने एबं बंद करने का रिमोट सिस्टम चालू होगा, पर बर्तमान के तरह यहां मैनुएल सिस्टम जारी रहेगा ।उन्होंने आगे बताये हैं कि बाढ़ की तवाही से नियंत्रण पाने के लिये यहा रिमोट सेंसर सिस्टम चालू किया जायेगा । इस सिस्टम के चालू करने एस डी ओ के अनुसार दो साल लगेगा ।साथ ही सिस्टम चालू होने के बाद पांच साल उसका संचालन निर्माण कम्पनी करेगा ।यहां रानीश्वर के किसानों को मयूराक्षी बया तट नहर से होती हैं ।उस नहर को भी रिमोट सिस्टम के साथ जोड़ा जायेगा ।आगे एस डी ओ ने बताया हैं कि उस सिस्टम का कार्य मयूराक्षी अंचल सिउड़ी, बीरभूम के यांत्रिक प्रमंडल के अधीन हैं।स्थानीय किसानों का मानना हैं कि सिंचाई विभाग के पास आबंटन हैं, बड़ी लागत से रिमोट सिस्टम चालू करेगा, पर यहां के किसानों को सिंचाई के हित मे प्रत्यक्ष लाभ नहीं मिलेगा ।

ग्राम समाचार के लिये गौतम चटर्जी, रानीश्वर दुमका ।

Share on Google Plus

Editor - केसरीनाथ यादव, दुमका

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें