expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Chhattisgarh News: छत्तीसगढ़ का शिमला कहे जाने वाले मैनपाट का अद्भुत सुन्दरता का प्रदर्शन


ग्राम समाचार, शिमला(छत्तीसगढ़)। मैनपाट देश के नक्शे पर पर्यटन स्थल (Tourist Place) के रूप में विख्यात है। यहां देश-विदेश के कई हिस्सों से सैलानी इसकी खूबसूरती देखने आते हैं। यहां आने वाले किसी भी व्यक्ति को निराशा हाथ नहीं लगती है।

चढ़ाई वाले खूबसूरत रास्तों पर हरे-भरे पेड़ सफर को और सुहाना बना देते हैं। मैनपाट धरती की सतह से काफी ऊपर है, यहां पहुंचने के बाद अन्य जगहों की अपेक्षा ताजी हवा व मौसम में ठंडक महसूस होती है। इसके अलावा यहां रहस्यमयी चीजें भी देखने को मिलती है। यहां का उल्टापानी व दलदली भी ऐसी ही जगह हैं।यूं ही मैनपाट को नहीं कहा जाता ‘छत्तीसगढ़ का शिमला’, आज यहां जमीन पर उतर आए बादल, देखें Photos


वहीं टाइगर प्वाइंट (Tiger Point) व फिश प्वाइंट (Fish Point) का झरना (Waterfall) भी लोगों को आकर्षित करता है। इन्हीं सब खूबियों के कारण मैनपाट लोगों के दिलों-दिमागों में बसा हुआ है। यूं ही मैनपाट को नहीं कहा जाता ‘छत्तीसगढ़ का शिमला, आज यहां जमीन पर उतर आए बादल।


    जमीन पर उतर आए बादल

शनिवार की रात सरगुजा जिले में करीब 2 घंटे तक झमाझम बारिश हुई। सुबह शहर व गांवों का नजारा तो अन्य दिनों की भांति सामान्य ही रहा लेकिन मैनपाट लोगों के लिए नया सवेरा लेकर आया था। यूं ही मैनपाट को नहीं कहा जाता ‘छत्तीसगढ़ का शिमला’, आज यहां जमीन पर उतर आए बादल।


यहां (Mainpat) के परपटिया में पहाड़ों व जमीन पर बादल उतर आए थे। जमीन की सतह पर बादल देख लोग मोहित हो उठे। यह नजारा वाकई में लोगों को हैरान करने वाला था। गौरतलब है कि बारिश के बाद यहां घना कोहरा (Fogg) भी अक्सर देखा जाता है।

                         -विनोद कुमार मीज,ग्राम समाचार शिमला(छत्तीसगढ़)।

Share on Google Plus

Editor - विलियम मरांड़ी।

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें