expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Chhattisgarh News: गोधन न्याय योजना अन्तर्गत वर्मी कम्पोस्ट निर्माण का प्रशिक्षण हुआ आयोजित


ग्राम समाचार,प्रतापपुर(छत्तीसगढ़)। प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी योजना नरवा-गरवा-घुरवा-बाड़ी के एक महत्वपूर्ण घटक गोधन न्याय योजना के तहत ग्राम जगन्नाथपुर जिला सूरजपुर के गोठान समिति व स्वयं सहायता समूह की बहनें आर्थिक रूप से अपने आप को आत्मनिर्भर करने के लिए वर्मी कंपोस्ट बनाने की दिशा में सतत अग्रसर हो रही है।

इसी कड़ी में कृषि विभाग के निर्देशानुसार दिनांक 3 अक्टूबर को कृषि विज्ञान केंद्र अजिरमा अम्बिकापुर के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं केन्द्र प्रमुख डॉ रविन्द्र तिग्गा के मार्गदर्शन में क्षेत्र की ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी श्रीमती रमा सिंह के द्वारा विधिवत वर्मी कंपोस्ट खाद बनाने का प्रशिक्षण ग्राम पंचायत जगन्नाथपुर के महिला समूहों को दिया गया। विदित हो कि इसके पूर्व ग्राम गोठान समिति के द्वारा ग्राम पंचायत के पंजीकृत पशुपालकों से 2 रु प्रति किलो की दर से गोबर खरीद की जा रही है। कृषि विज्ञान केन्द्र के वरिष्ठ वैज्ञानिकों के मार्गदर्शन अनुसार विधिवत् टाॅंका भराई की कार्यवाही में लगभग 15-20 दिन पुराने गोबर को वर्मी बैड में डाला गया था। जिसके ऊपर गोठान के घांस फुस और पशुओं के द्वारा चरने के पश्चात बचे हुए पैरा चारा इत्यादि को 6 इंच डाला गया। पर्याप्त नमी बने रहेए इसलिए ऊपर से हल्के पानी का छिड़काव किया गया। इसके बाद 6 से 7 दिन पुराना गोबर लगभग 3 इंच तक वर्मी बेड में डाला गयाए और उसकी अच्छे से लिपाई की गई। इसके बाद प्रति बेड केवीके अजिरमा से 157 रु 50 पैसे प्रति किग्रा की दर से क्रय किये गए आइसिनियाफोटिडा वैरायटी की वर्म्स केंचुए को डाला गया। इसके माध्यम से लगभग 40 से 45 दिन में चायपत्ती के दाने के समान दानेदार वर्मी कम्पोस्ट तैयार हो जाता है।  समूह की महिलाओं को उपरोक्तानुसार बनाये गए वर्मी बेड में विधिवत नियमित रूप से आवश्यक नमी बनाए रखने के लिए  मार्गदर्शन दिया गया, साथ ही तैयार किये जा रहे वर्मी टाॅंका में उपस्थित केंचुओं को चिंटियों से बचाने के उपाय भी बताये गये। यँहा उल्लेखनीय है कि उपरोक्तानुसार बने खाद को 8 रु की दर से खरीदी करने की योजना हैए जिससे ग्राम गोठान समिति और स्वयं सहायता समूह के सदस्य बहुत ही उत्साहित हैं, वर्मी कम्पोस्ट से तैयार अच्छे जैविक खाद की पर्याप्त उपलब्धता के माध्यम से भूमिसुधार के साथ.साथ गाँव के गोठान एवम स्वयं सहायता समूह आर्थिक उन्नति की ओर अग्रसर होंगे।   उक्त प्रशिक्षण कार्यक्रम में ग्राम पंचायत जगन्नाथपुर की सरपंच श्रीमती सोनमती केहरी सहित मुस्कान स्वयं सहायता समूह की अध्यक्ष शान्ति केहरी, सचिव सतवंती तथा शारदा स्वयं सहायता समूह की अध्यक्ष कमला टेकाम, सचिव विराजो सहित दोनों महिला समूहों की अन्य सभी सदस्य के साथ ग्राम गोठान समिति के पदाधिकारी व ग्रामवासी उपस्थिति रहे।

                        -विनोद कुमार मीज,ग्राम समाचार, सरगुजा(छत्तीसगढ़)।

Share on Google Plus

Editor - विलियम मरांड़ी।

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें