expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Sahibganj News;हिंदी दिवस के अवसर पर साहिबगंज महाविद्यालय एन. एस एस के तत्वाधान में ,हिंदी और हिंदुस्तान;विषय पर वेबिनार द्वारा विमर्श गोष्ठी आयोजित!

ग्राम समाचार, साहिबगंज।आज हिंदी दिवस के अवसर पर साहिबगंज महाविद्यालय एन एस एस के तत्वधान में "हिंदी और हिंदुस्तान" विषय पर वेबिनार द्वारा विमर्श गोष्ठी बी.एस के कॉलेज बरहरवा के प्राचार्य डॉ सुधीर सिंह की अध्यक्षता में आयोजित की गई।जिसमें साहिबगंज महाविद्यालय,बी.एसके कॉलेज बरहरवा,शिबू सोरेन जनजातीय कॉलेज,बोरियो से शिक्षक,छात्र व हिंदी के विद्वानजन जुड़े। कार्यक्रम में साहिबगंज महाविद्यालय प्राचार्य डॉ विनोद कुमार बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए।
                                               आज के कार्यक्रम संचालित करते हुए एन एस एस के डॉ रंजीत सिंह ने कहा कि हिंदी की पहचान हिंदुस्तान से है। रेणु गुप्ता ने कहा कि भारतेंदु हरिश्चंद्र ने कहा था कि"अंग्रेजी पढ़ के यद्यपि सब गुण होत प्रवीण,पर निज भाषा ज्ञान बिन रहत हैं के हीन"।हिंदी भाषा केवल संवाद की भाषा नही होती बल्कि उसमे एक जीवित समाज सांस ले रहा होता है। डॉ ध्रुव ज्योति सिंह ने कहा कि जन जन में लोकप्रिय होने की वजह इसकी सरलता,सहजता और सरसता है।डॉ चंदन कुमार बोहरा ने कहा कि हमसभी हिंदी को हमेशा प्राथमिकता दें।
                                                       हिंदी केवल हमारी मातृभाषा व राष्ट्रभाषा ही नहीं।अपितु राष्ट्रीय अस्मिता और गौरव का प्रतीक है। राष्ट्रभाषा हिंदी हमें भावनात्मक एकता के सूत्र में बांधती है।आज विश्व में हिंदी बोलने वालों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। हिंदी के सम्मान में हर वर्ष 14 सितंबर को देश में हिंदी दिवस मनाया जाता है।आजादी मिलने के 2 साल बाद 14 सितंबर 1949 को संविधान सभा में एकमत से हिंदी को राजभाषा घोषित किया गया था।राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने हिंदी को जनमानस की भाषा कहा था।आज इंटरनेट पर हिंदी का प्रसार तेजी से हो रहा है।डिजिटल माध्यम से 2016 में हिंदी समाचार पढ़ने वालों की संख्या 5.5 करोड़ थी जो अब 2021 तक बढ़कर 14 करोड़ होने का अनुमान है।
Share on Google Plus

Editor - Gram smachar, sahibganj

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें