expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Rewari News : आवारा पशुओ का आतंक जारी, आवारा सांड के हमले में एक और युवक की मौत, बावल के पातुहेड़ा गांव की घटना



रेवाड़ी में इन दिनों आवारा पशुओ का आतंक बदस्तूर जारी है। रेवाड़ी के बावल में सांड के हमले में एक युवक की मौत हो गयी। 35 वर्षिय मृतक युवक गुलकेश आगरा का रहने वाला था और बावल के पातुहेड़ा गांव में किराये पर रहता था। गुलकेश औद्योगिक क्षेत्र बावल की एक निजी कंपनी में काम करता था। हर रोज की भांति आज सुबह गुलकेश कंपनी में ड्यूटी पर जा रहा था दौरान गांव के समीप घूम रहे एक आवारा सांड ने गुलकेश पर हमला कर दिया। जिससे उसकी मौके पर मौत हो गई। घटना की सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। बताया जा रहा है कि ग्रामीणों ने रस्से की मदद से सांड को काबू में किया। यहाँ हम आपको बता दें आवारा पशुओ (सांड) के द्वारा इंसानो पर हमले की यह कोई पहली घटना नहीं है इससे पूर्व भी 12 अगस्त को रेवाड़ी शहर के ठठेरा चौक पर दो सांड की लड़ाई में एक फोटोग्राफर संजय उर्फ़ डोली नाम के युवक की मौत हो गई थी। इससे पूर्व 04 अगस्त को बड़ा तालाब पर एक गाय ने दो बच्चो पर जानलेवा हमला कर दिया था जिसमे स्थानीय लोगों ने दोनों बच्चो को मुश्किल से बचाया जिसकी सीसीटीवी फुटेज भी सामने आयी है सांड के हमले के कारण यह दूसरी मौत हुई है। मीडिया में खबरें दिखाए जाने के बाद प्रशासन हरकत में आया और पशुओ को पकड़ने का अभियान शुरू किया गया। वहीं इस बारे में जब हमने गांव पातुहेड़ा के सरपंच से बात की तो उन्होंने बताया कि आसपास के गांव और निकटवर्ती राजस्थानकी सीमा पर लोग आवारा पशुओ को छोड़ देते है गांव में इनकी संख्या काफी हो गई है जो कंपनी एरिया और गांव में इधर-उधर घूमते रहते है और आये दिन लोगो को अपना निशाना बनाते रहते है।

Share on Google Plus

Editor - राजेश शर्मा : रेवाड़ी (हरि.) - 9813263002

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें