expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Pakur News: महेशपुर पत्थर खदान में पत्थर ढुलाई करने वाले अज्ञात डंपर के ऊपर से पत्थर गिरने से एक व्यक्ति की मौत

ग्राम समाचार, पाकुड़। महेशपुर रद्दीपुर ओपी अंतर्गत सुंदर पहाड़ी पत्थर खदान में पत्थर ढुलाई करने वाले अज्ञात डंपर के ऊपर से पत्थर गिरने से एक व्यक्ति की मौत रामपुरहाट में इलाज के दरम्यान हो गया है। उक्त व्यक्ति का पहचान पश्चिम बंगाल के मुरारोई थाना क्षेत्र के सोहरा गांव निवासी सुशांत माल के रूप में हुई है। घटना बीते 18 अगस्त शाम का है। उक्त घटना को लेकर मृतक के चाचा सपन माल सोहरा निवासी ने बीते कल रद्दीपुर ओपी में फर्द बयान देते हुए अज्ञात डंपर के चालक व मालिक के खिलाफ। तेजी व लापरवाही से डंपर चलाना तथा डंपर में लदे पत्थर गिर कर घायल कर देना जिससे मृत्यु हो जाने के तहत मामला दर्ज करवाया है। फर्द बयान में मृतक के चाचा सह वादी ने पुलिस को दिए गए लिखित आवेदन में उल्लेख किया है कि दिनांक 18 अगस्त शाम साढ़े चार बजे के आसपास उसको मोबाइल पर सूचना मिला कि उसका भतीजा सुशांत माल घायल हालत में रामपुरहाट अस्पताल में इलाजरत है। अस्पताल पहुंचने पर देखा कि उसका भतीजा मृत अवस्था में अस्पताल के बेड पर पड़ा हुआ है। अस्पताल में एक व्यक्ति तकदीर शेख ने वादी को बताया कि उसका भतीजा सुशांत माल सुंदर पहाड़ी पत्थर खदान के पटना बाबू के क्रेसर के पीछे पैदल जा रहा था। इसी दरम्यान विपरीत दिशा से एक अज्ञात डंपर पत्थर लेकर आ रहा था। सड़क पर गड्ढा रहने के कारण डंपर का पत्थर ऊपर से उसके गर्दन पर गिर गया। जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। स्थानीय लोगों ने घायल को उठाकर वाहन के माध्यम से इलाज के लिए रामपुरहाट लेकर ले गया। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। इस घटना को लेकर स्थानीय थाने में अज्ञात डंपर चालक व मालिक के खिलाफ मामला दर्ज कर ली गई है। उधर पुलिस मामले की छानबीन में जुटी हुई है।


ग्राम समाचार, देवव्रत कुमार दास महेशपुर


Share on Google Plus

Editor - रंजीत भगत, पाकुड़

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें