expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Pakur News: महेशपुर सैकड़ों की संख्या में आक्रोशित आदिवासियों की भीड़ को देखते हुए लोगों ने अपने-अपने दुकानें बंद कर दी।

ग्राम समाचार,पाकुड़। महेशपुर थाना क्षेत्र के शहरग्राम गांव में बीते गुरुवार की देर रात धावाडंगाल गांव निवासी टीके सोरेन की पिटाई के विरोध में धावाडंगाल के ग्रामीणों ने दूसरे दिन शुक्रवार को शहरग्राम चौक पहुंचकर दुकानों को बंद करा दिया था। उसके बाद आक्रोशित ग्रामीणों का प्रदर्शन का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा। वही शनिवार सुबह 10 बजे के आसपास शहरग्राम चौक पर शनिवार को सैकड़ों की संख्या में आक्रोशित आदिवासियों की भीड़ को देखते हुए लोगों ने अपने-अपने दुकानें बंद कर दी। आक्रोशित भीड़ ने खदेड़ते हुए शहरग्राम के युवकों पर लाठी-डंडे व पत्थर से हमला कर दिया। इस घटना में शहरग्राम गांव के तीन व्यक्ति संतोष साहा, भरत साहा, बेजन साहा बुरी तरह से घायल हो गया है। इस घटना को लेकर महेशपुर पुलिस निरीक्षक सुरेंद्र रविदास, थाना प्रभारी दिनेश प्रसाद चौरसिया, बीडीओ उमेश मंडल, सीआई देवकांत सिंह को होते ही पुलिस बल के साथ शहरग्राम चौक पहुंचे। भीड़ के द्वारा शहरग्राम निवासी दिनेश साहा को उन लोगों को सौंपने का मांग कर रहे थे। वही कुछ देर बाद पाकुड़ एसडीपीओ अशोक कुमार सिंह भी पहुँचें थे। उधर भीड़ की संख्या बढ़ते देख मौजूद पदाधिकारियों द्वारा उक्त घटना की सूचना उपायुक्त व पुलिस कप्तान पाकुड़ को दिए जाने के बाद, शहरग्राम चौक में अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया। इस दौरान प्रशासन द्वारा दोनों पक्ष के लोगों को बुलाकर मामला शांत करवाने का काफी कोशिश किया जा रहा था। समाचार भेजे जाने तक प्रशासन द्वारा दोनों पक्ष के प्रमुख लोगों के साथ बैठक कर मामला सुलझाने का प्रयास किया कर रहे थे। ज्ञात हो कि बीते गुरुवार देर रात धावाडंगाल निवासी टिके सोरेन फुटबॉल मैच देखकर वापस अपने घर जा रहा था। इसी दरम्यान शहरग्राम के समीप जोरदार बारिश शुरु हो गई। बारिश के वजह से वह शहरग्राम के दिनेश साहा के घर के पास रुक गया। और फिर बारिश खत्म होने के बाद मकान मालिक दिनेश साहा द्वारा उस युवक को अपने घर जाने को कहा। इसी बात को लेकर दोनों के बीच तू-तू मैं-मैं होने लगा विवाद इतना बढ़ गया कि दोनों के बीच मारपीट हो गई। घटना को लेकर शुक्रवार को टिके सोरेन घटना की आपबीती जब अपने गांव के ग्रामीणों को सुनाया तो सभी ग्रामीण आक्रोशित हो गए। और सैकड़ों की संख्या में बीते कल शुक्रवार को भी शहरग्राम चौक पर धावा बोल दिया था। जहां डर के मारे सभी दुकानदार अपने-अपने दुकानें बंद कर दिए थे। उधर अतिरिक्त पुलिस बल आने के बाद आक्रोशित ग्रामीण धावाडंगाल खेल मैदान में एकत्रित होकर एक बैठक किया। उक्त बैठक में ग्रामीणों द्वारा निर्णय लिया गया कि इस घटना में दिनेश साहा द्वारा टिके सोरेन को मारपीट कर गंभीर रूप से घायल कर दिया है। ग्रामीणों की मांग है कि शाहरग्राम के लोग दिनेश साहा को लेकर आदिवासी परंपरा के अनुसार बैठक करें। बैठक में आपसी सहमति से समस्या का समाधान कर लिया जाएगा। मौके पर भाजपा नेता दुर्गा मरांडी व समाज सेवी राजू हंसदा, राजू पहाड़िया के अलावे सैकड़ो आदिवासी समाज के महिला एवं पुरुष शामिल थे।


Share on Google Plus

Editor - रंजीत भगत, पाकुड़

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें