expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Bhagalpur News:भाजपा महिला मोर्चा का वर्चुअल संवाद

ग्राम समाचार, भागलपुर। तीन तलाक कानून तलाक देने वाले पुरुषों को सिर्फ जेल भेजने के लिए नहीं बल्कि मेल मिलाप के साथ परिवार बसाने में मजबूती भी प्रदान करती है। उक्त बातें भारतीय जनता पार्टी महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष लाजवंती झा की अध्यक्षता में आयोजित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान भारतीय जनता पार्टी के नेता व भारत सरकार के दूरसंचार, प्रौद्योगिकी विधि एवं न्याय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कही। उन्होंने कहा कि आज ट्रिपल तलाक के माध्यम से केंद्र सरकार द्वारा महिलाओं को सम्मान देने का 1 वर्ष पूरा हुआ है। इस ऐतिहासिक निर्णय को मजबूती से लेने के लिए हमारी सरकार कई समस्याओं का सामना की लेकिन महिलाओं की सम्मान व उन्हें मजबूती प्रदान करने के लिए कानून बनाकर यह ऐतिहासिक निर्णय लिया। इसमें तलाक देने वाले पुरुषों को जहां पर 3 साल तक की सजा का प्रावधान है तो वहीं दूसरी ओर उन्हें ससम्मान परिवार बसाने का अवसर भी दिया जाता है। यह कानून अल्पसंख्यक शादीशुदा महिलाओं के जीवन को संबल प्रदान करेगी व अगली पीढ़ी भी अपने जीवन को खुशहाल से जीने में सफलता प्रदान करेगी। इस दौरान राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रेनू देवी व राष्ट्रीय महामंत्री महिला मोर्चा बिहार प्रदेश प्रभारी कमलावती सिंह का भी उद्बोधन कार्यकर्ताओं को मिला। कार्यक्रम का संचालन बिहार प्रदेश की महामंत्री प्रियंवदा केसरी व धन्यवाद ज्ञापन प्रदेश महामंत्री परिणीता कर रही थी। इस वर्चुअल संवाद में भागलपुर जिले के तरफ से भागलपुर भाजपा महिला मोर्चा जिला अध्यक्ष श्वेता सिंह ने भी अपनी बात रखी। साथ ही जिले के तमाम अल्पसंख्यक महिलाओं की ओर से आभार प्रकट की। इस वर्चुअल संवाद में भागलपुर से महिला मोर्चा की प्रदेश मंत्री माला सिंह, डॉ अलका चौधरी, कुंदन कुमारी, अनामिका ठाकुर, चांदनी कुमारी, बेबी नुसरत, शकीला बेगम, स्वीटी, सायरा बानो, नूर, निखत, परवीन आदि भी जुड़ी रही।
Share on Google Plus

Editor - Bijay shankar

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें