expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

और यह सांसद का आदर्श गांव है, क्या हुआ तेरा वादा.... वो कसम .... वो इरादा .....


ग्राम समाचार (गोड्डा) ।आजादी के कई दशक बीत जाने के बाद ना जाने कितनी सरकारे आई और गई बहुत छोटे बड़े वायदे किए गए लेकिन आम जनमानस की समस्या ज्यों की त्यों बनी हुई है।

हम बात कर रहे है गोड्डा सांसद निशिकांत दुबे द्वारा गोद के लिए आदर्श ग्राम बोहा की। बोहा पंचायत को सांसद द्वारा गोद  लिए 6 साल बीत गए फिर भी यहां मूलभूत सुविधाएं सड़क, स्वास्थ्य, बिजली की समस्या ज्यो की त्यों बनी हुई है।

सोचने वाली बात यह है कि आदर्श ग्राम बनाने के बाद भी इस गांव का मुख्य सड़क ज्यों का त्यों पड़ा है। बारिश में ही सड़क दलदल में तब्दील हो जाती है। जहाँ हर आने जाने वालों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है। सड़क पर पानी जमा हो जाने से बीमारियों का घर बना रहता है आए दिन कई समस्याएं को झेलना पड़ता है। प्रमुख सड़क होने के कारण आए दिन हमेशा कोई ना कोई दुर्घटना होते रहता है। जबकि यह सड़क लिट्टी स्थित उप स्वास्थ्य केंद्र से जुड़ी हुई है।

ग्रामीण मुकेश ठाकुर, बबलू मरांडी, शिव लाल मरांडी, प्रदीप शाह सहित अन्य ग्रामीणों ने बताया कि हम लोग को स्वास्थ्य केंद्र जाना बहुत ही दुर्लभ हो जाता है। क्योंकि इस सड़क पर मोटरसाइकिल जैसे छोटे वाहन का भी उपयोग नहीं कर सकते हैं। अगर किसी को अपना जिला जाने का होता है या वह रोजगार के लिए शहर की ओर जाना हो तो दोनों ही स्थिति में उनको इसी  सड़क से होकर गुजरना पड़ता है। 

बताया कि बगल में ही राजा भीठा थाना क्षेत्र और प्रखंड बोअरिजोर जाने का भी मुख्य मार्ग यही है। इसी सड़क से होकर ग्रामीण छात्रों को भी उच्च शिक्षा के लिए पथरगामा एवं बरमसिया हाई स्कूल आना जाना प्रतिदिन होता है। इस मार्ग पर प्रशासन से लेकर पदाधिकारी एवं अन्य नेतागण का आना जाना लगा रहता है। लेकिन आज तक इस सड़क की दुर्दशा देख कर ऐसा लगता है कि नेताओं के वादे सिर्फ चुनावी समय में होता है और बाद में सिर्फ वादे बन कर रह जाते हैं। 
                       - धर्मेंद्र कुमार, ग्राम समचार, गोड्डा।
Share on Google Plus

Editor - Editor

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें