expr:class='"loading" + data:blog.mobileClass'>

Godda News: video - तालझरी रैयतों ने लिया फैसला राजमहल परियोजना को नहीं देंगें जमीन, पेसा कानून का हो रहा है उल्लंघन ग्रामीणों ने किया हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर

ग्राम समाचार, बोआरीजोर(गोड्डा)। राजमहल परियोजना से प्रभावित गांव तालझारी रैयतों ने सोमवार को बैठक किया। बैठक में तालझारी रैयतों द्वारा निर्णय लिया गया कि राजमहल परियोजना ईसीएल प्रबंधन को जमीन नहीं दे देगें।  रैयतों ने कहा हमलोग हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर किए है।
तालझारी गांव के रैयत बड़ी तादाद की संख्या में तालझारी स्कूल परिसर में जमा हुए हैं यह तस्वीर हैरान करने वाली है। बैठक ग्राम प्रधान पुलिस हाँसदा के अध्यक्षता में ग्रामीणों के साथ शांतिपूर्ण वातावरण में बैठक किया गया। ग्राम समाचार मिडिया से बात करते हुए रैयतों को पूछा गया कि आपलोग परियोजना को जमीन क्यों नहीं देना चाहते तो रैयतों ने कहा अपनी रैयती बहुफसलीय कृषि जमीन ईसीएल राजमहल परियोजना को नहीं देगें। बैठक में ग्रामीण प्रेलालाल हाँसदा,मानवेल हाँसदा,बेटालाल मुर्मू,मुंशीचरण मुर्मू,पंचन हाँसदा आदि ने कहा हमलोग गोड्डा जिला प्रखंड बोआरीजोर जो अनुसूचित क्षेत्र के अंतर्गत आते हैं यहां पेशा कानून 1996 लागू है। संविधान के तहत ग्राम सभा को सर्वोपरि माना गया है। ईसीएल प्रबंधन द्वारा पेसा कानून को ताक पर रखकर माइनिंग किया जा रहा है जो पैसा कानून 1996 का खुलम खुला उलंघन किये रहे है।

हम ग्रामीणों द्वारा झारखंड उच्च न्यायालय में जनहित याचिका दायर किए है। जिसका रजिस्ट्रेशन संख्या PIL: WPC-706/2019 है जो विचाराधीन है। ग्रामीणों के द्वारा यह भी बताया गया कि हमलोग अपनी जमीन बचाने के लिए आवाज उठाते हैं तो ईसीएल प्रबंधन द्वारा हम लोगों के ऊपर फर्जी मुकदमा भी चलाया जाता है जिससे हम ग्रामीण काफी चिंतित में है।

वहीं ग्रामीणों ने कहा दो दिन पूर्व में कुछ तथाकथित लोगों द्वारा खबरों में प्रकाशित किया गया था कि तालझरी रैयत जमीन दे रहे हैं, यह बिल्कुल अमान्य है। हम ग्रामीणों के साथ वैसी कोई वार्ता अभी तक मैनेजमेंट के साथ नहीं हुई है।

ग्रामीणों ने बताया खदान तालझारी मौजा के नजदीक होने की वजह से यहां का जलस्तर काफी नीचे चला गया है। जिससे ग्रामीणों को शुद्ध पेयजल व सिचाई के लिए काफी समस्याएं उत्पन्न हो रही है। बैठक में दिवीलाल मुर्मू,भगत हाँसदा,भरत माल,सुबोध माल,बाबुलाल हाँसदा,मरांगमय सोरेन,तालामय टुडू,तेरेसा सोरेन,बहामय मरांडी,पौलिना टुडू,भकू मुर्मू आदि महिला सहित सैकड़ों रैयतों की संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे।
-ग्राम समाचार, बोआरीजोर (गोड्डा)।
Share on Google Plus

Editor - विलियम मरांड़ी।

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें