Bhagalpur News:कुरान की शिक्षा से ही मिल सकती है कामयाबी - सैयद हसन, 50 छात्रों की हुई दस्ताबंदी

ग्राम समाचार, भागलपुर। मदरसा अरबिया शाहकुंड में सोमवार को जलसा-ए-दस्ताबंदी का आयोजन किया गया। जिसमें 50 से करीब हाफिजों की जिन्होंने ने कुरान-ए-पाक पूरा याद कर लिया मुख्य अतिथि द्वारा दस्ताबंदी की गई। इस मौके पर बांदा उत्तर प्रदेश से आए मुख्य अतिथि हबीब अहमद ने कहा कि आज जरूरत है कि लोग कुरान-ए-पाक की शिक्षा को समझे और उसके मुताबिक अमल करें। इस अवसर पर खानकाह-ए-पीर दमड़िया के नायब सज्जादानशीं सैयद शाह फखरे आलम हसन ने कहा कि कुरान-ए-पाक समस्त मानवता की रहनुमाई के लिए अवतरित किया गया। जिसकी बुनियादी तालीम एक अल्लाह की इबादत और मानवता से प्रेम व मोहब्बत करना है। कुरान-ए-पाक लोगों को हर किस्म की बुराई से बचने और अच्छाईयों तथा नेकी के रास्ते पर चलने का पैगाम देता है। उन्होंने कहा कि कुरान-ए-पाक जीवन व्यतीत करने का एक बेहतरीन उदाहरण है। आज लोग को असफलता हाथ लग रही है। इसका सबसे बड़ा कारण है कि लोग आज अल्लाह और अंतिम पैगम्बर जनाब मोहम्मद सल्लाहो अलैहि वसल्लम के बताए मार्ग को छोड़ चुके हैं। लिहाजा लोगों को चाहिए की अल्लाह की रस्सी को मजबूती से पकड़ लें। कार्यक्रम में मास्टर अब्बास, मौलाना मतीउर रहमान ने लोगों को सम्बोधित किया। इस मौके पर बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे। इससे पूर्व कार्यक्रम की शुरुआत तिलावत-ए-कुरान से करी होजैफा ने किया।

Share on Google Plus

About Bijay shankar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment