Pathargama News: सवारी बस और बाइक की आमने-सामने की टक्कर में घायल हुए युवक की मौत




                       घायल वीरेंद्र कुमार सिंह का फोटो

ग्राम समाचार, पथरगामा ब्यूरो रिपोर्ट:- सुबह 10:00 बजे के आसपास गांधीग्राम के परसपानी मोड़ के पास लल मटिया से बोकारो जा रही सवारी बस संख्या जे एच 21ई 0594 की चपेट में आकर सिंघेयडीह निवासी मोटरसाइकिल सवार वीरेंद्र कुमार सिंह बुरी तरह से जख्मी हो गया आनन-फानन में आसपास के ग्रामीणों के सहयोग से घायल वीरेंद्र को सदर अस्पताल गोड्डा ले जाया गया घायल की गंभीर स्थिति को देखते हुए बेहतर चिकित्सा हेतु उसे मायागंज भागलपुर रेफर कर दिया गया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई| मिली जानकारी के अनुसार वीरेंद्र कुमार सिंह महागामा थाना क्षेत्र में पड़ता है| वह अपने ससुराल सिंघेयडीह मे रहकर महागामा में साइकिल की दुकान चला रहा था | आज मोटरसाइकिल संख्या जेएच 17 जी 5457 से महागामा स्थित अपनी साइकिल दुकान जाने के क्रम में गांधीग्राम के मोदी मिष्ठान भंडार के पास स्थित परसपानी मोड़ से जैसे ही वह पथरगामा की तरफ मुड़ने लगा ठीक उसी समय गोड्डा की तरफ जा रही ललमटिया-बोकारो बस से आमने-सामने की टक्कर हो गई| मृतक अपने पीछे पत्नी के अलावे 3 पुत्र और एक पुत्री को छोड़ गया है| घटना की सूचना पाकर घटनास्थल पर पहुंची पथरगामा थाना पुलिस द्वारा बस और मोटरसाइकिल जप्त कर थाना लाया गया| ड्राइवर बस फोटो भागने में सफल रहा|


अपराहन 3:00 बजे के आसपास लाए गये मृतक की लाश को उसके परिजनों ने सड़क पर रखकर मृतक की अंतिम क्रिया करने के लिए तत्काल मुआवजे की मांग को लेकर सड़क जाम कर दिया| साथ ही मृतक के परिजन सदर अस्पताल गोड्डा के प्रबंधन पर इलाज में लापरवाही बरतने का आरोप लगा रहे थे| सड़क जाम की सूचना पाकर अंचलाधिकारी संतोष बैठा और थाना प्रभारी अरुण कुमार ने दल बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर परिजनों को सरकारी मुआवजा और अन्य सरकारी सुविधा दिए जाने कu आश्वासन देकर जाम खुलवाया तब कहीं जाकर आवागमन  सुचारू हो सका|
Share on Google Plus

Editor - भूपेन्द्र कुमार चौबे

ग्राम समाचार से आप सीधे जुड़ सकते हैं-
Whatsaap Number -8800256688
E-mail - gramsamachar@gmail.com

* ग्राम समाचार से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

* ग्राम समाचार के "खबर से असर तक" के राष्ट्र निर्माण अभियान में सहयोग करें। ग्राम समाचार एक गैर-लाभकारी संगठन है, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
- राजीव कुमार (Editor-in-Chief)

    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Online Education